पौड़ी गढ़वाल : दलवीर नेगी दिल्ली दंगाईयों की दंगई के भेंट चढ़ गया। पहाड़ का नौजवान मन में परिवार के लिए लाख सपने लिए दिल्ली में एक मिठाई की दुकान में नौकरी करने गया था लेकिन उसे क्या पता था कि उसको ऐसी मौत दी जाएगी। पौड़ी गढ़वाल के थैलीसैंण ब्लॉक थाना क्षेत्र पैठाणी के युवक दलवीर सिंह फौज में भर्ती होना चाहता था और गरीब मां बाप का सहारा बनना चाहता था लेकिन वो सपना कभी पूरा नहीं हो सकेगा। बता दें कि दिल्ली दंगाईयों ने दलबीर के दोनों हाथ काटकर जिंदा जला दिया था।

आंगन में बैठे बेेटे की राह देख रहे माता-पिता

वहीं परिवार अभी तक बेटे को खोने का गम भुला नहीं पाए है। माता-पिता आंगन में बैठे बेटे की राह देख रहे हैं। ऐसे में बेटा तो नहीं लेकिन मसूरी विधायक गणेश जोशी की बेटी और भाजपा युवा मोर्चा की राष्ट्रीय मीडिया सह प्रभारी नेहा जोशी दलबीर घर पहुंचे और माता-पिता को सांत्वना दी और साथ ही उन्हें 01 लाख की धनराशि का चैक सौंपा।

हमारा एक भाई फौज में जाने की तैयारी कर रहा था लेकिन-नेहा जोशी

इस दौरान विधायक की बेटी नेहा ने बताया कि विधायक गणेश जोशी की प्रतिनिधि के तौर पर वह पीड़ित परिवार से मिली और उन्हें आर्थिक मदद की। उन्होंने कहा कि हमारा एक भाई फौज में जाने की तैयारी कर रहा था लेकिन उपद्रवियों ने उसे जिंदा जला दिया। नेहा जोशी ने कहा कि इस दुख की घड़ी में पूरा उत्तराखण्ड इस परिवार के साथ खड़ा है, यह संदेश पीड़ित परिवार को देना अत्यधिक जरुरी था।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top