देहरादून : उत्तराखंड में कोरोना के मरीजों का आंकड़ा बढ़ा है। हालांकि एक आईएफएस अफसर के उपचार के बाद रिपोर्ट अब नेगेटिव आई है इसकी जानकारी डीजी हेल्थ ने दी है। वहीं अब सरकार कोरोना को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए एक्शन में आ गए है और वहीं अपने उत्तराखंड के लोगों के लिए हर संभव कोशिश कर रही है। जी हां सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सोशल मीडिया के माध्यम से उत्तराखंड प्रवासियों के लोगों के लिए एक नंबर जारी किया है जिसमे फोन कर लोग अपनी समस्या सरकार को बता सकते हैं. सीएम ने हर संभव मदद का भरोसा दिया है।

सीएम की पोस्ट

सीएम ने लिखा कि लॉकडाउन के चलते हमारे राज्य के कई युवा दिल्ली के गाजीपुर रैन बसेरे में या अन्यत्र जगहों पर फंसे हुए हैं, उन्हें घर पहुंचाने के प्रयास किये जा रहे हैं। करीब 200 लोगों को कल उनके घर पहुंचाया गया है। इस स्थिति में प्रवासी उत्तराखंडियों की दिक्कतों को सुनने, सुलझाने व अन्य राज्यों से कॉर्डिनेट करने के लिए श्री आलोक पांडे (फ़ोन न. 6398500571) को अधिकृत किया गया है।

सीएम ने लिका कि ये कोरोना के खिलाफ हम सभी की जंग है इसे मिलकर लड़ना है। हो सकता है हमें कुछ कष्ट उठाना पड़े, लेकिन संकट की घड़ी में हमें धैर्य रखना चाहिए और सभी सरकारी दिशानिर्देशों व डॉक्टरों की सलाह का पालन करना चाहिए। जो भी युवा प्रदेश में आ रहे हैं उनकी मेडिकल जांच होगी और सभी सावधानियां बरतनी होगी।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top