हरिद्वार : कहते हैं प्यार में सब जायज है लेकिन जब प्यार ही प्यार का कत्ल कर दे तो ऐसे प्यार से दूरी ही सही है…जिस प्यार के लिए एक युवक ने घर-परिवार छोड़ा आखिर में उसी प्यार ने युवक को मौत के घाट उतार दिया।जी हां मामला हरिद्वार का है..जहां घर के इकलौते बेटे दीपक ने एक शादीशुदा महिला के प्यार में पागल होकर अपने परिवार को भी छोड़ दिया। परिवार को ये रिश्ता नामंजूर था लेकिन बेटे की जिद्द ने परिवार को अलग-थलग कर दिया। दीपक की प्रेम कहानी एक दम फिल्मी है लेकिन सच है।

मिली जानकारी के अनुसार दीपक चार भाइयो में सबसे छोटे थे। जो किसी युवती से प्रेम करता था। उस प्रेमिका की एक करीबी सहेली थी जो की शादीशुदा थी। जब दीपक की गर्लफ्रेंड की शादी हो गई तो प्रेमिका की शादीशुदा सहेली दीपक के सम्पर्क में आई।दोनों को प्यार हो गया। शादी शुदा महिला ने दीपक को बताया कि वो अपने नशेड़ी पति से परेशान है औऱ उसके साथ नहीं रहना चाहती बल्कि उससे प्यार करती है।दीपक ने शादीशुदा महिला का हाथ थाम लिया और घर ले पहुंचा। दीपक ने अपने परिवार से महिला की पहली शादी की सच्चाई छुपाई लेकिन ये सच तो एक दिन सामने आना ही था। दरअसल हुआ यूं की शादीशुदा महिला की मां उसके पहले पति के पास रह रहे बच्चों को लेकर दीपक के घर आ पहुंची जिससे दीपक के घरवाले हक्के बक्के रह गए।

दीपक के परिवार वालों ने दीपक को बहुत समझाया लेकिन सिर पर प्यार का भूत सवार था। दीपक घर छोड़ कर चला गया और अचानक परिवार वालों एक दिन दीपक की मौत की खबर सुनाई दी तो चीखें निकल गई। परिवार वाले एक ही बात कह रहे थे कि काश दीपक ने हमारी बात सुन ली होती। पुलिस ने जब परिवार वालों से किसी पर शक होने की बात पूछी तो परिवार वालों ने सीधे उसकी पत्नी पर शक जताया औऱ आखिर में वहीं उसकी मौत की वजह निकली। पुलिस ने एक आरोपी की गिरफ्तार किया है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top