होली के दिन कांग्रेस छोड़ने का ऐलान करने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आज भाजपा का दामन थाम लिया है। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी.नड्डा ने सिंधिया को बीजेपी की सदस्यता ली।

इस दौरान सिंधिया ने सबसे पहले पीएम मोदी और गृहमंत्री का धन्यवाद कहा। सिंधिया ने कहा कि मेरे जीवन में दो तारीखें बहुत महत्वपूर्ण रहीं है। पहला दिन 30 सितंबर 2001 था, जिस दिन मैंने अपने पूज्य पिता को खोया। दूसरी तारीख 10 मार्च 2020 थी, जो उनकी 75वीं वर्षगांठ थी। इस दिन मैंने एक नया फैसला लिया।

इस दौरान सिंधिया ने कहा कि मैंने हमेशा माना है कि हमारा लक्ष्य जनसेवा होना चाहिए। राजनीति केवल उस लक्ष्य को पूरा करने का माध्यम होना चाहिए और कुछ नहीं। सिंधिया ने कहा कि आज वाली कांग्रेस पहले जैसी नहीं है। मध्य प्रदेश सरकार में आज ट्रांसफर उद्योग चल रहा है।

जेपी नड्डा ने सिंधिया को बताया परिवार का सदस्य

इस अवसर पर जेपी नड्डा ने सिंधिया को परिवार का सदस्य बताया। जेपी नड्डा ने कहा कि आज हम सबके लिए बहुत खुशी का विषय है और आज मैं हमारी वरिष्ठतम नेता स्वर्गीय राजमाता सिंधिया जी को याद कर रहा हूं। भारतीय जनसंघ और भाजपा दोनों पार्टी की स्थापना और स्थापना से लेकर विचारधारा को बढ़ाने में एक बहुत बड़ा योगदान रहा है। सूत्रों के अनुसार बीजेपी ज्योतिरादित्य सिंधिया को अपने कोटे से राज्यसभा का उम्मीदवार बनाएगी और बाद में उन्हें केंद्र में मंत्री बनाया जा सकता है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top