नई दिल्ली: देश में लॉकडाउन का दूसरा चरण तीन मई को पूरा होगा। इसके बाद केंद्र सरकार ग्रीन जोन के तौर पर चिह्नित इलाकों को कुछ शर्तों के साथ छूट देने की तैयारी में है। इसको लेकर केंद्रीय मंत्री समूह आज फैसला ले सकता है। हालांकि कोरोना वायरस संक्रमण से बुरी तरह प्रभावित रेड जोन इलाकों को फिलहाल कोई राहत नहीं दी जाएगी।

दिल्ली, मुंबई, नोएडा, इंदौर समेत कुछ अन्य ‘हॉटस्पॉट’ शहरों के लिए मंत्री समूह (जीओएम) अलग से रोडमैप तैयार कर रहा है। इस पर भी विचार किया जा रहा है कि किन शहरों में आर्थिक गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए किस तरह की छूट दी जा सकती है। हॉटस्पॉट वाले इलाके पहले की तरह ही सील रखे जाएंगे।

जानकारी के अनुसार, सरकार ग्रीन जोन में तीन मई के बाद लॉकडाउन को आगे नहीं बढ़ाने पर विचार कर रही है। कोरोना से निपटने के लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता वाले जीओएम में ऐसा करने के लिए सैद्धांतिक सहमति बन गई है। ग्रीन जोन की श्रेणी में उन इलाकों को रखा गया है, जो संक्रमण मुक्त हैं या वहां आंशिक तौर पर ही इसका असर है। ऐसे इलाकों में लॉकडाउन तो हटाया दिया जाएगा लेकिन, स्थानीय निवासियों को मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने समेत कई अन्य कड़ी शर्तों का पालन करना होगा।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top