यूपी के बुलंदशहर जिले के बीबीनगर थाने में तैनात दरोगा विजेंद्र सिंह की शुक्रवार देर रात संदिग्ध हालत में साथी दारोगा की सरकारी पिस्टल से गोली लगने से मौत हो गई। मामला करीब 12 बजे का बताय जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार विजेंद्र सिंह शुक्रवार देर रात बीबीनगर थाने में क्वार्टर पर ड्यूटी खत्म करने के बाद सोने के लिए गए थे। तभी अचानक उनके साथी दारोगा नरेंद्र की सर्विस पिस्टल से अचानक गोली चली जो की विजेंद्र के पेट में लगी। नरेंद्र लहूलुहान हालत में दरोगा विजेंद्र सिंह को अपनी निजी सेंट्रो कार से बीबीनगर के एक निजी हॉस्पिटल ले गए, जहां उनकी मौत हो गई। इसकी सूचना पर एसएसपी संतोष कुमार सिंह व एसपी सिटी अतुल श्रीवास्तव मौके पर पहुंचे।

आरोपी दरोगा नरेंद्र मौके से फरार हो गया। जिसे पुलिस ने रात में ही गाजियाबाद जिले के मसूरी थानाक्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया। मृतक दरोगा विजेंद्र सिंह गाजियाबाद जिले के मुरादनगर थाना क्षेत्र के गांव जलालाबाद का रहने वाला है। थाने पर उसकी बीते वर्ष 22 जुलाई को तैनाती हुई थी। एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि मुंशी की तहरीर पर आरोपी दरोगा के खिलाफ  मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top