हल्द्वानी : उत्तराखंड का नैनीताल जिला जो कि कोरोना वायरस कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए रेड जोन में शामिल किया गया है। यही नहीं नैनीताल जिले के हल्द्वानी शहर के बनभूलपुरा क्षेत्र में 13 अप्रैल से कर्फ्यू भी लगाया गया है जिले में लॉक डाउन का सख्ती से पालन करने के लिए दिन-रात पुलिस महकमे के कर्मचारी 24 घंटे सड़कों में, कर्फ्यू ग्रस्त क्षेत्र में और पूरे जिले के दुर्गम इलाकों में भी गरीब लोगों की मदद में जुटे हुए हैं।

इस बीच 24 घंटे सातों दिन काम करने वाले इन पुलिसकर्मियों के लिए एसएसपी नैनीताल सुनील कुमार मीणा ने ऐतिहासिक फैसला लिया है। एसएसपी ने बताया कि अब नैनीताल जिले में दिन रात मेहनत कर ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों को सप्ताह में 1 दिन का रेस्ट दिया जाएगा यही नहीं लॉक डाउन का पालन करा रहे पुलिसकर्मियों के मनोबल और उत्साह को बढ़ाने के लिए पुलिस रोस्टर प्रणाली के अनुसार सप्ताह में 1 दिन का अवकाश देगी।

गौरतलब है कि नैनीताल जिले में रामनगर, नैनीताल, भीमताल, भवाली, हल्द्वानी और लालकुआँ सभी प्रमुख शहरों में पुलिस के कर्मचारी दिन रात एक कर गरीब निर्धन और मजदूरों की सेवा कर रहे हैं ऐसे में 24 घंटे ड्यूटी में जुटे रहने वाले कर्मचारियों को सप्ताह में यदि एक दिन रेस्ट दिया जाएगा तो वह फिर उसी उत्साह से कार्य में जुटेंगे, लिहाजा एसएसपी सुनील कुमार मीणा के इस फैसले को काफी उत्साहजनक और बेहतर बताकर सराहा जा रहा है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top