देहरादून: लाॅकडाउन के बीच उत्तराखंड में स्थिति सामान्य नजर आ रही है। लोग लाॅकडाउन के लिए निर्धारित छूट के दौरान भी घरों से कम ही बाहर निकल रहे हैं। दुकानों के बाहर भीड़ भी नजर नहीं आ रही है। हालांकि तीन दिन बाद बैंक खुलने के कारण बैंकों के बाहर लोगों की लंबी कतारें जरूर नजर आ रही हैं। हालांकि यह स्थिति कुछ ही जगहों पर है।

अल्मोड़ा में बैंक के बाहर लंबी लाइन लग गई। इस दौरान लोग सामाजिक दूरी का पालन करते दिखाई दिए। रुद्रपुर में भी बैंक के बाहर दिखाई दिया। लोगों को सैनिटाइज करके ही बैंक में प्रवेश दिया गया। लॉकडाउन की ढील में रानीखेत का बाजार सुनसान पड़ा रहा। वहीं जसपुर कृषि उत्पादन समिति में वायरस के संक्रमण से बचने के लिए ऑटोमेटिक सैनिटाइजर गेट लगाया है। रामनगर के बाजारों में कम रौनक दिखाई दी। इसी तरह रुद्रपुर में भी दुकानें खुली हैं, लेकिन भीड़-भाड़ न के बराबर है।

हरिद्वार में कोरोना प्रभावितों के लिए बनाए गए राहत शिविर इंकलाब जिंदाबाद के नारों से गूंज रहे हैं। सुबह-शाम योगाभ्यास किया जा रहा है। इस दौरान लोग कोरोना को भगाना है, भारत को जिताना है नारेबाजी करते दिखे। हरिद्वार के जिया पोता गांव में बैंक के बाहर भीड़ पहुंच गई। यहां लोग सामाजिक दूरी का पालन करते नहीं दिखे।

विगत आठ अप्रैल से कोई कोरोना पॉजिटिव न मिलने से सरकार के साथ ही यहां की जनता ने भी राहत की सांस ली है। लॉकडाउन के उल्लघंन के मामलों पर कार्रवाई जारी है। अब तक 5539 लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है। राजधानी देहरादून से लेकर प्रदेश के लगभग हर जिले में स्थितियां सामान्य हैं। लोग खुद ही लाॅकडाउन का पालन कर रहे हैं।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top