देहरादून:-  उत्तराखंड के निजी स्कूलों में फीस बढ़ाने पर लगी रोक, शिक्षा मंत्री ने शिक्षा सचिव को जरूरी कार्रवाही सुरु करने के दिये निर्देश, लॉकडाउन के चलते 3 महीने तक फीस न लेने का आदेश दिया गया था निजी स्कूलों को,

देश के राजकीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं की पढ़ाई घर पर ही सुचारू रखने के लिए माननीय विद्यालयी शिक्षा, संस्कृत शिक्षा, खेल, युवा कल्याण एवं पंचायती राज मंत्री श्री अरविन्द पाण्डेय जी ने आज अपने देहरादून आवास में सचिव विद्यालयी शिक्षा उत्तराखण्ड से वार्ता की।

वार्ता में माननीय मंत्री श्री अरविन्द पाण्डेय जी ने सम्पूर्ण राज्य में विद्यालय पाठ्यक्रम की पुस्तकों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया। साथ ही माननीय मंत्री जी ने कहा कि उक्त विषय पर मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार से पत्राचार के माध्यम से संपर्क किया जा रहा है।

इसी क्रम में माननीय मंत्री जी ने स्पष्ट निर्देश दिए कि आगामी शैक्षणिक सत्र में प्रदेश के निजी विद्यालय अपनी विद्यालय फीस में कदापि बढ़ोतरी न करें। इसके विधिवत आदेश करें। साथ ही आगामी शैक्षणिक सत्र से विद्यालयी शिक्षा विभाग के अंतर्गत होने वाले स्थानांतरण, पदोन्नति एवं अन्य महत्वपूर्ण प्रक्रियाओं को प्रारम्भ करने के निर्देश दिए।

माननीय मंत्री श्री अरविन्द पाण्डेय जी ने फीस के विषय में अनुरोध किया कि समाज का सक्षम वर्ग एवं निजी विद्यालय बड़े मन का परिचय दें। ये आपसी सामंजस्य का वक्त है। वर्तमान समय में सभी सामुदायिक भावना के अनुरूप में आपसी सहयोग करें।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top