देहरादून : दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज के आसपास के मोबाइल टॉवरों की जांच के दौरान पीलीभीत के 22 लोगों की लोकेशन यूपी और उत्तराखंड के कई जिलों में आ रही है। इस खबर से यूपी और उत्तराखंड हड़कंप मच गया है। वहीं अब पुलिस को लेकर एक्शन में आ गई है।

जी हां इसको लेकर एडीजी कानून व्यवस्था ने पीलीभीत एसपी को पत्र भेजकर सभी लोगों को ट्रेस कर मेडिकल जांच और कोरनटाइन कराने के निर्देश दिए हैं।

अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था पीवी रामाशास्त्री ने एसपी पीलीभीत को एक पत्र भेजा है।जिसमें कहा गया है कि दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज के आसपास के टावरों की तहकीकात के दौरान कुल 19140 मोबाइल नंबर सक्रिय पाए गए हैं।जिनमें से जिला पीलीभीत के रहने वाले 24 मोबाइल नंबर भी 14 मार्च से लेकर 16 मार्च तक सक्रिय थे। यह लोग पीलीभीत के शहर कोतवाली, थाना सुनगढ़ी, जहानाबाद, बीसलपुर, बिलसंडा, हजारा, पूरनपुर, अमरिया क्षेत्रों के निवासी हैं।

बता दें कि इन सभी की आईडी ट्रेस कर लोकेशन निकाली गई है। यह लोकेशन वर्तमान में उत्तर प्रदेश के बरेली, मुरादाबाद, लखीमपुर खीरी, हापुड़, नोएडा, लखनऊ, मेरठ, अमरोहा, शाहजहांपुर, गाजियाबाद आदि जिलों में पाई गई है जबकि उत्तराखंड के उधम सिंह नगर रुद्रप्रयाग और चंपावत में भी कुछ लोकेशन आई है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top