पौड़ी : कोरोना के कहर के बीच उत्तराखंड में प्रशासन की लापरवाही सामने आ रही है। प्रवासियों के आने से कोरोना का खतरा तो बढ़ा ही है साथ ही शासन प्रशासन की लापरवाही भी सामने आ रही है जिससे कोरोना का खतरा और बढ़ रहा है।

जी हां पौड़ी जिले में कोटद्वार बेस अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती गुरुग्राम से लौटे युवक (25) की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जानकारी मिली है कि युवक 13 मई को कोटद्वार आया था। उसे बुखार की शिकायत थी। स्क्रीनिंग के दौरान तापमान सामान्य से अधिक होने पर उसे आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कर जांच के लिए सैंपल ऋषिकेश भेजा था। जिसमे कोरोना की पुष्टि हुई।

लेकिन हैरान और परेशान कर देने वाली बात ये है कि जिस बीरोंखाल ब्लाक के 25 वर्षीय युवक में कोरोना की पुष्टि हुई है वो तीन दिन तक रोजवेज बस में एक जिले से दूसरे जिले में घूमता रहा जो कि शासन प्रशासन की साफ लापरवाही जाहिर करता है।

जानकारी मिली है कि कोटद्वार पहुंचने से पहले कोरोना पॉजिटिव युवक तीन दिन तक रोडवेज की बस में सफर करता रहा। जानकारी मिली कि युवक गलती से गुरुग्राम से कोटद्वार की बस में बैठने की जगह हल्द्वानी की बस में बैठ गया। फिर वहां से वापस हरिद्वार आया और फिर हरिद्वार से उसे कोटद्वार की बस में घर के लिए बैठाया गया। ये जानकर हड़कंप मच गाय है। अब युवक की ट्रवल हिस्ट्री खंगाली जा रही है। इतना ही नहीं युवक के कोरोना पॉजिटिव आने के तैनात करीब 50 कर्मचारियों में संक्रमण फैलने का खतरा बना है।

तीन दिन इस जिले से उस जिले घूमता रहा युवक

जानकारी मिलीहै कि युवक बीरोंखाल ब्लॉक का है जो कि गुरुग्राम में प्राइवेट में नौकरी करता था लेकिन नौकरी छूट गई। युवक ने घर आने के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था। 10 मई को उत्तराखंड रोडवेज की बस प्रवासियों को लेने गुरुग्राम गई थी। युवक गलती से कोटद्वार की जगह हल्द्वानी की बस में बैठ गया। हल्द्वानी पहुंचने पर उसे 11 मई को हरिद्वार लौटाया गया औऱ फिर 12 मई को वह पूरे दिन और रात हरिद्वार में ही रुका रहा। फिर 13 मई को उसे हरिद्वार से रोडवेज की बस में अन्य लोगों के साथ कोटद्वार भेजा गया।

कोटद्वार पहुंचने पर ग्रास्टनगंज मैदान में तैनात स्वास्थ्य कर्मियों ने युवक की थर्मल स्क्रीनिंग की, जिसमें युवक का तापमान सामान्य से अधिक मिलने पर डाक्टरों ने उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करा दिया। उसका सैंपल जांच के लिए एम्स ऋषिकेश भेजा गया था और शुक्रवार को एम्स की रिपोर्ट आई जिसमें युवक कोरोना पॉजिटिव पाया गया। इस बीच युवक ने गुरुग्राम से हल्द्वानी, हल्द्वानी से हरिद्वार और हरिद्वार से कोटद्वार के बीच रोडवेज की बस में हल्द्वानी, कोटद्वार-भाबर और निकवर्ती पर्वतीय क्षेत्रों के कई लोगों के साथ सफर किया, जिससे उसके संपर्क में इन स्थानों में कई लोग आए। प्रशासन इन लोगों को ट्रेस करने में जुटा है।

गुरुग्राम से कोटद्वार लौटे कोरोना पॉजिटिव युवक के संपर्क में आए बीरोंखाल ब्लाक के दो युवकों को पुलिस, प्रशासन और राजस्व विभाग ने क्वारंटीन सेंटर भेज दिया है। बताया जा रहा है कि ये दो युवक बस में ही कोरोना पॉजिटिव युवक के संपर्क में आए थे। ब्लाक के एक युवक की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने से पुलिस, प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग उसके संपर्क में आए सभी लोगों को ट्रेस कर क्वारंटीन सेंटर भेजने की तैयारी कर रही है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top