देहरादून : दुनियाभर में फंसे भारतीयों को वापस लाने का दावा किया गया था। कई लोगों को वापस भी लाया गया। लेकिन, कई देश ऐसे भी थे। जहां फंसे लोगों के लिए सरकार ने कोई हवाई सेवा नहीं चलाई। ऐसा ही एक मामला आइवरी कोस्ट का भी है। यहां रह रहे भारतियों में कई लोग उत्तराखंड के भी हैं। उन्होंने वहां भारतीय दूतावास से भी संपर्क किया था, लेकिन कोई लाभ नहीं हुआ।

थक हार कर अब लोगों ने अपने खर्चे से 1-1 लाख में देश आने का टिकट बुक किया है। हालांकि इसमें दूतावास ने भी उनकी मदद की है। किसी तरह टिकट बुक करने के बाद अब लोगों के सामने दिल्ली और दूसरे महंगे शहरों में क्वारंटीन हरने के लिए होटल का खर्च भी खुद ही उठाना पड़ेगा। जिसके लिए पहले से ही कई लोग होटल बुक कर चुके हैं।

आइवरी कोस्ट नौकरी करने वाले देहरादून निवासी सुमित ने बताया कि 22 जून को प्राइवेट हवाई सेवा कंपनी का प्लेन उड़ान भरेगा, जो अगले दिन दिल्ली पहुंचेगा। नियमों के अनुसार विदेश से आने वाले लोगों को क्वारंटीन होना अनिवार्य है। उनके सामने समस्या यह है कि उनको पहले दिल्ली में 7 दिन के लिए होटल में क्वारंटीन होना पड़ेगा। फिर देहरादून पहुंचने भी क्वारंटीन में रहना होगा और उसके बाद घर में भी 14 दिन के लिए क्वारंटीन किया जाएगा।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top