सुशांत सिंह राजपूत ने अपने बांद्रा स्थित घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. बॉलीवुड से लेकर राजनैतिक गलियारों में शोक की लहर है। वहीं सुशांत की मौत के बाद उत्तराखंड के लोगों की आंखे नम हैं। लोग उनकी मूवी केदारनाथ को याद कर आंसू बहा रहे हैं और यही कह रहे हैं कि आखिर ऐसा क्यों किया।

आपको बता दें कि 6 दिसम्बर 2018 ये रिलीज की डेट थी सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म केदारनाथ की जिसमें उनके साथ सारा अली खान को लांच किया था। मगर फिल्म रिलीज को लेकर विवाद हुआ और उत्तराखंड में फिल्म रिलीज करने को लेकर विरोध किया। उत्तराखंड में रातों रात इस फिल्म को बैन कर दिया गया। देहरादून में पहले ही दिन इस फिल्म के 62 शो कैंसिंल करने पड़े। फिल्मों की बुकिंग हफ्ते दर हफ्ते के लिए की जाती है। लिहाजा मल्टीप्लेक्स व सिंगल थिएटर मालिकों को पूरे हफ़्ते के साढ़े चार सौ शो कैंसिल कर घाटा उठाना पड़ा।

2013 में आई आपदा पर बनी फिल्म केदारनाथ को विरोध झेलना पड़ा। सुशांत सिंह राजपूत की इस फिल्म को खासा नुकसान पहुंचाया। टीजर आते ही जगह जगह विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए थे। फिल्म के पोस्टर तक जलाए गए। फिल्म देश में तो रिलीज हुई मगर उत्तराखंड में इस फिल्म को लेकर विरोध बढ़ता चला गया। रिलीज से सिर्फ एक दिन पहले सरकार के निर्देश पर देहरादून में तत्कालीन डीएम एसए मुरुगेशन ने फिल्म को लगने से रोकने का आदेश जारी कर दिया। रात में व्हाट्सएप पर बैन का आदेश आया और सुबह होने तक लिखित आदेश भी आ गया। सिनेमाहॉलों के बाहर पुलिस बल तैनात कर दिया गया। ताकि कोई हिंसा न हो।

उस हफ्ते कोई नई फिल्म रीलिज नहीं हुई। सुशांत सिंह राजपूत समेत फिल्म के निर्देशक अभिषेक कपूर उत्तराखंड सरकार के इस निर्णय से विचलित हुए। अपने ट्वीट में उन्होंने इस पर प्रतिक्रिया भी दी थी। प्रभात सिनेमा हॉल के मैनेजर जीएस राणा ने बताया कि बैन का आदेश आने के बाद परिसर में पुलिस तैनात हो गई। फिल्म के लिए जो भी एडवांस बुकिंग की गई थी। सभी को उसके पैसे लौटाए गए।

उत्तराखंड में 29 दिन की शूटिंग हुई थी

बता दें केदारनाथ फिल्म की शूटिंग उत्तराखंड में 29 दिनों तक हुई। फिल्म की शूटिंग त्रिजुगीनारायण, केदारनाथ, गौरीकुंड, चोपता, दुग्गलबिटा में हुई थी। इनमें श्रीनगर के रंगकर्मी व गायक कलाकार राकेश भट्ट के पुत्र अक्षत व उत्तरकाशी निवासी अरविंद पंवार भी शामिल थे। शूटिंग में सहुलियत के लिए मुबंई में भी केदारनाथ मंदिर का सेट बनाया गया था।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top