देहरादून : कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए केंद्र सरकार द्वारा दी गाइडलाइन के अनुसार सभी लोगों को मास्क पहनना अनिवार्य है और न पहनने पर कड़ी कार्रवाई पुलिस द्वारा की जा रही है। वहीं कई ऐसे लोग भी हैं जो मास्क का प्रयोग कर उसे कूड़े में फेंक रहे हैं जो की ज्यादा खतरनाक साबित हो रहा है। सबसे अच्छा है कि मास्क का प्रयोग कर उसे जला दिया जाए ताकि संक्रमण न फैले।

कूड़े में मास्क बीन रहे थे बच्चे

लेकिन देहरादून में हैरान कर देने वाली तस्वीर दिखी। दरअसल देहरादून नगर निगम अंतर्गत आने वाले कारगी चौक के पास बना ट्रांसफर प्लांट में बीते दिन छोटे बच्चे कूड़े में पड़े मास्क को बीन रहे थे। जिस पर मीडिया की नजर गई। मामले की गंभीरता से देखते हुए निगम प्रशासन ने रैम्की चेन्नई एमएसडब्ल्यू कंपनी की लापरवाही पर 50 हज़ार का जुर्माना ठोका और आज शाम तक जमा करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही भविष्य में फिर से इस तरह की लापरवाही होने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है।

नगर आयुक्त विनय शंकर पांडे ने जानकारी देते हुए बताया कि सुबह जानकारी मिली थी कि कारगी चौक स्थित डंपिंग जोन में जमा सारे शहर भर का कूड़ा ट्रांसफर होकर शीशमबाड़ा में जाता है। कारगी चौक के पास पड़े कूड़े में मास्क पड़े थे और उन्हें छोटे-छोटे बच्चे बीन रहे थे जो की गंभीर मामला है। यह कंपनी की ज़िम्मेदारी है कि इस तरह से कूड़े में मास्क न हो। इसलिए निगम प्रशासन द्वारा कंपनी पर 50 हज़ार का जुर्माना लगाया गया है और कंपनी को निर्देश दिए गए हैं कि शाम तक जुर्माना जमा करें। साथ ही भविष्य के लिए चेतावनी दी गई है कि इस तरह के मामले सामने आते हैं तो निगम प्रशासन इससे भी ज़्यादा कड़ी कार्रवाई की जाएगी।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top