भारत और चीन के बीच काफी समय से गलवान घाटी में तनाव है। वहीं बीते दिनों भारत के 20 जवान शहीद हो गए।चीन ने एक बाऱ फिर भारत से दगाबाजी की और हमारे सैनिकों पर हमला किया जिससे 20 परिवारों समेत पूरे देश में शोक की लहर है। वहीं अब चीनी सामानों के बहिष्कार की मांग देशभर से उठने लगी है। लोगों ने चीन के सामनों को आग के हवाले किया।

चीन से जुड़े 52 मोबाइल ऐप्स को लेकर चिंता 

इतना ही नहीं इस बीच खुफिया एजेंसियों ने चीन से जुड़े 52 मोबाइल ऐप्स को लेकर चिंता जाहिर की है. एजेंसियों ने सरकार से कहा है कि ये ऐप्स व्यापक स्तर पर यूजर्स का डाटा चीन भेज रही हैं. ऐसे में सरकार या तो इन ऐप्स को ब्लॉक कर दे या फिर यूर्जस को सलाह दे कि वे इन ऐप्स का इस्तेमाल न करें. क्योंकि इनका इस्तेमाल सुरक्षित नहीं है. खुफिया एजेंसियों ने इन ऐप्स की सूची सरकार को भेजी है. इसमें वीडियो कांफ्रेंसिंग ऐप Zoom, शॉर्ट वीडियो ऐप TikTok के अलावे UC browser, Xender, SHAREit और Clean-master भी शामिल हैं.

सुरक्षा परिषद सचिवालय ने भी माना- ये एप्स देश के लिए खतरा

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार खुफिया एजेंसियों की इन चिंताओं को राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद सचिवालय ने भी समर्थन किया है. सुरक्षा परिषद सचिवालय का भी मानना है कि ये ऐप्स देश की सुरक्षा के लिए खतरा हैं. ऐसे में अभी उम्मीद की जा रही है कि सरकार इन ऐप्स को बैन करने या इसके लेकर एडवायजरी जारी करने का फैसला ले सकती है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top