देहरादून : कल यानी 21 जून को सूर्यग्रहण है। इस दौरान सूतक काल काफी लंबा रहने वाला है। इस दौरान चारधाम बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री समेत प्रदेशभर के अन्य मंदिरों के कपाट भी सूतक काल में 16 घंटे तक बंद रहेंगे। सूतक काल आज रात दस बजकर 24 मिनट से मंदिरों के कपाट बंद कर दिए जाएंगे। 21 जून को लगने जा रहे सूर्यग्रहण का सूतक काल 12 घंटे पहले यानि 20 जून रात 10 बजकर 25 से शुरू होगा और रविवार दोपहर एक बजकर 53 मिनट तक रहेगा।

इस साल का पहला सूर्यग्रहण 21 जून को लगेगा। ग्रहण तीन घंटा 30 मिनट तक रहेगा। बदरीनाथ धाम के धर्माधिकारी भुवन चंद उनियाल ने बताया कि इस ग्रहण से लगभग 12 घंटे पहले 20 जून शाम से सूतक काल शुरू हो जाएगा। गंगोत्री धाम के तीर्थ पुरोहित और गंगोत्री मंदिर समिति सचिव दीपक सेमवाल ने बताया कि शनिवार की रात साढ़े नौ बजे से लेकर रविवार दोपहर दो बजे तक गंगोत्री धाम के कपाट बंद रहेंगे।

ज्योतिषयों के मुताबिक भारत में 21 जून सुबह 10.11 बजे से लेकर दोपहर 1.40 बजे तक तक सूर्य ग्रहण लगा रहेगा। इस दिन बुध, बृहस्पति, शुक्र, शनि, राहु और केतु ग्रह एक साथ वक्री रहेंगे। ज्योतिषाचार्य ने कहा कि किसी भी ग्रहण का खगोल शास्त्र और वैदिक ज्योतिष दोनों में विशेष महत्व होता है, यह ग्रहण मिथुन राशि पर लग रहा है। वैज्ञानिकों की मानें तो जब सूर्य और पृथ्वी के बीच में चंद्रमा आ जाता है और चंद्रमा की वजह से सूर्य का प्रकाश पृथ्वी पर नहीं आ पाता है, तो इस भौगोलिक घटना को सूर्य ग्रहण कहा जाता है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top