बिहार : कल शाम तक जिस घर में अपने सपूत के शहादत की खबर के बाद कोहराम मच गया था। आज सुबह उसी घर में फिर से खुशियां लौट आई हैं। इस तरह की ख़बरें आई थीं कि छपरा के लाल सुनील राय सीमा पर शहीद हो गए हैं. बाकयदा मीडिया में ख़बरें भी चलीं। शहादत की खबर आते ही घर में कोहराम मच गया था, लेकिन आज सुबह फिर से खबर आई कि सुनील पूरी तरह ठीक है और उन्होंने अपने परिजनों से फोन के जरिए बात भी की है। सलामती की खबर मिलते ही खुशियां लौट आई हैं। छपरा का लाल सुनील राय सीमा पर शहीद नहीं हुआ, बल्कि सही सलामत है।

एनबीटी के अनुसार छपरा के लाल सुनील राय के जिंदा होने  की खबर आई है। सुनील राय के बारे में पहले खबर आई थी कि भारत-चीन सीमा पर दुश्मनों से लड़ते हुए शहीद हो गया।लेकिन अब खबर आई है कि सुनील पूरी तरह ठीक है और उन्होंने अपने परिजनों से फोन के जरिए बात भी की है। सेना के अधिकारियों ने परिवार से बात करते हुए बताया है कि गलतफहमी के कारण ठीक जानकारी नहीं मिली। लद्दाख में सुनील पूरी तरह ठीक है, जिसके बाद छपरा के परसा गांव में मातम का माहौल फिर से खुशी में तब्दील हो गया है।

सुनील के भाई मिथिलेश राय ने फोन पर बात करने के बाद मीडिया को बताया कि उनके भाई पूरी तरह ठीक है और अधिकारियों ने कहा है कि गलतफहमी के कारण या गलत सूचना की वजह से ये सब हुआ और इसके लिए खेद भी जताया गया है। लद्दाख के गलवान इलाके में भारत और चीन की सेना के बीच खूनी संघर्ष में भारत में 20 सैनिक शहीद हो गए। चीन के इस धोखे के बाद पूरे देश में गुस्से का माहौल है। भारत ने अभीतक इस मामले पर सधी प्रतिक्रिया दी है। लेकिन नई दिल्ली अपने सैनिकों की शहादत का बदला लेने की पूरी तैयारी कर रहा है। सूत्रों के मुताबिक पेइचिंग की इस हिमाकत का बदला भारत बड़ी तैयारी के साथ लेने वाला है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top