नई दिल्ली : भारत-चीन सीमा पर गलवान घाटी में सेना के अफसर और दो जवानों के शहीद होने की खबर के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री, सीडीएस, आर्मी चीफ और कई अन्य सेना के अफसरों के बीच हाई लेबल मीटिंग हुई है। करीब एक घंटे तक चली इस बैठक में भारत-चीन के बीच हुई झड़प पर लंबी चर्चा की गई। इसमें आगे की रणनीति भी तय की गई है।

जानकारी के अनुसार भारत-चीन सीमा के बीच हुई झड़क के दौरान फायरिंग नहीं हुई है, लेकिन चीनी सेना के ओर से अन्य तरह के हथियारों का प्रयोग किया गया। झड़प के दौरान चीनी सेना के जवानों और अफसरों ने चुपके से हमला कर दिया था, जिसमें सेना के जवानों की शहादत हुई है।

इस पर आगे की कार्रवाई को लेकर दिल्ली में बैठक की गई है। माना जा रहा है कि करीब ढाई बजे सेना की ओर से एक प्रेस काॅन्फ्रेंस की जाएगी, जिसमें सेना की और से पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी जाएगी। पूरे मामले को लेकर अब राजनीति बयानबाजी भी शुरू हो गई है। राजनीतिक दल सरकार से इस परे मामले पर स्थिति साफ करने की मांग कर रहे हैं।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top