सितारगंज : सूखी नदी में जिस युवक की हत्या की गयी है, वह प्रवासी बताया जा रहा है। युवक के हाथ पर विलेज क्वारंटाइन की मुहर लगी मिली है। यह मान जा रहा है कि वो हाल ही में घर लौटा होगा। हालंकि अभी यह साफ नहीं हो सका है कि युवक किस गांव के विलेज क्वारंटाइन सेंटर में रह रहा था। अब तक उसकी शिनाख्त नहीं हुईहै। पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

दरअसल, तीन दिन पहले सूखी नदी में अज्ञात युवक का शव बरामद हुआ था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या का खुलासा होने के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। शक्तिफार्म चौकी प्रभारी संजीत कुमार ने बताया कि शव की बरामदगी के दौरान हाथ खून से सना हुआ था। पोस्टमार्टम के बाद साफ हुआ है कि युवक के हाथ पर ऊधमसिंह नगर जिले के विलेज क्वारंटाइन की मुहर लगी हुयी है। यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि उसकी हत्या किसने और क्यों की। मुहर मिलने के बाद पुलिस ने आसपास के गांवों में विलेज क्वारंटाइन सेंटरों से प्रवासियों की जानकारी जुटाना शुरू कर दिया है।

 तीन दिन बाद भी शव की शिनाख्त नहीं होने से यह आशंका भी बढ़ गयी है कि युवक स्थानीय नहीं था। मामले में पुलिस ने सोशल मीडिया का भी सहारा लिया था। युवक की तस्वीरें भी डाली गयीं, लेकिन किसी ने भी अब तक युवक को नहीं पहचाना है। पुलिस को घटनास्थल के पास से हेलमेट, शराब की बोतल और दो मास्क पड़े मिले हैं। इससे आशंका जतायी जा रही है कि घटनास्थल पर युवक के साथ अन्य लोग भी मौजूद थे। पुलिस को संदेह है कि गहरी दुश्मनी के कारण प्रवासी के सिर में हत्या के मकसद से वार किये है। उसे घसीटा गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में प्रवासी के सिर में काफी जानलेवा प्रहार होने की पुष्टि हुई है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top