उधम सिंह नगर जनपद की नेपाल सीमा से लगी खटीमा तहसील के मेलाघाट गांव से नेपाल को खुलेआम हो रही है सरकारी खाद की तस्करी। जहां इन दिनों नेपाल और भारत का बॉर्डर सील है वही फिर भी सभी सुरक्षा एजेंसियों को धत्ता देते हुए नेपाल को हो रही है खाद की तस्करी। जाम बॉर्डर पर तैनात एसएसबी के अधिकारी नेपाल को खाद की तस्करी होना स्वीकार कर रहे हैं वही खाद की तस्करी रोके जाने की बात भी कह रहे हैं।

खटीमा में मेला घाट से लगी इंडो नेपाल सीमा पर इन दिनों सरकारी खाद की तस्करी अपने चरम पर है। मेलाघाट नेपाल सीमा पर स्थानीय तस्कर जहां मुनाफे को लेकर सरकारी खाद को भारत से नेपाल पहुंचाने का काम कर रहे हैं। वही लगातार खाद की तस्करी की घटनाओं के बावजूद भी स्थानीय पुलिस व प्रशासन इन पर अंकुश लगाने पर नाकाम है। स्थानीय किसानों का भी आरोप है कि जहां उन्हें खेती के लिए सरकारी खाद पर्याप्त मात्रा में नहीं मिल पाती है। वहीं सरकारी खाद का नेपाल को तस्करी होना कहीं ना कहीं गलत है। इंडो नेपाल सीमा की सुरक्षा में तैनात एसएससी के अधिकारी भी वर्तमान में खटीमा नेपाल सीमा पर खाद तस्करों के सक्रिय होने की तस्दीक कर रहे हैं। वही उनका कहना है कि स्थानीय तस्कर होने के नाते उन लोगों को एसएसबी की गश्त का पता रहता है जिसका फायदा उठाकर वह मौका पाते ही भारतीय खाद को नेपाल में तस्करी कर पहुंचा रहे हैं। जिस पर अंकुश लगाना अनिवार्य है। वहीं एसएसबी भी लगातार इन खाद तस्करों पर अंकुश लगाने का प्रयास कर रही है।




0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top