सुशांत सिंह राजपूत मामले में एक बार फिर से बॉलीवुड समेत देश में सुगबुगाहट तेज हो गई है। जी हां क्योंकि शनिवार को सुशांत के पिता केके सिंह ने रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई है। सुशांत के पिता ने रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार पर कई गंभीर आरोप लगाए है। वहीं सुशांत के परिवार के वकील विकास सिंह ने मुंबई पुलिस पर भी कई गंभीर आरोप लगाए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार राजपूत परिवार के वकील विकास सिंह ने मुंबई पुलिस को घेरते हुए कहा कि रविवार को एफआईआर होने के बाद भी अभी तक रिया के खिलाफ कोई एक्शन क्यों नहीं लिया गया है। कहा कि मुंबई पुलिस इस केस में बहुत धीरे जांच कर रही है और साथ ही साथ उसकी जांच का एंगल भी केस के मुताबिक ठीक नहीं है। कहा है कि मुंबई पुलिस सुशांत सिंह राजपूत के परिवार पर दबाव बना रही है और मुंबई के प्रोडक्शन हाउसेस के नाम लेने को कह रही है। इसके साथ ही मुंबई पुलिस सुशांत के परिवार पर बडे फिल्म निर्माताओं का नाम लेने के लिए दबाव बनाती रही है। वहीं बिहार पुलिस रिया के घर पहुंची लेकिन वो वहां नहीं मिली। पुलिस उनके ठिकानों परतलाश कर रही है।

विकास ने कहा कि हमें लगा था कि FIR होते ही तुरंत रिया चक्रवर्ती की गिरफ़्तारी होगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। वकील ने कहा कि हमें अब भी उम्मीद है कि मुंबई पुलिस जल्द ही गिरफ्तारी करेगी।

वहीं एसपी सिटी पटना विनय तिवारी ने कहा कि बिहार पुलिस की टीम भी मुंबई पहुंच गई है और जांच कर रही है। वहीं मुंबई पुलिस की मदद करने के सवाल पर विनय तिवारी ने कहा कि इसकी एक प्रक्रिया होती है और उसके मुताबिक ही काम हो रहा है। बता दें कि सुशांत ने रिया समेत उसके परिवार पर कई गंभीर आरोपलगाए हैं। सुशांत के पिता का आरोप है कि रिया ने उनके बेटे को आत्महत्या करने पर मजबूर किया। रिया ने 17 करोड़ रुपये कई अकाउंट्स में भेजे जिनके बारे में उन्हें कोई जानकारी ही नही है। सुशांत के पिता ने रिया पर उनके बेटे को दवा के ओवरडोज देने का आरोप लगाया।

केके सिंह ने अपनी एफआईआर में इस बात का भी जिक्र किया है कि सुशांत की मौत के कुछ दिन पहले ही रिया वहां से चली गईं और साथ में कैश, जेवर, लैपटॉप, सुशांत के बैंक कार्ड्स और उनके पिन, सुशांत की मेडिकल रिपोर्ट्स आदि भी अपने साथ ले गईं। केके सिंह का आरोप है कि रिया और परिवार ने सुशांत को आत्महत्या करने पर मजबूर किया।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top