रुद्रप्रयाग : कोरोना कहर के बीच सरकार ने जहां अनलॉक कर लोगों को राहत दी तो वहीं सख्ती जारी रखी है। जी हां पुलिस बिन मास्क पहने,सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने वालों और बिन अनुमति के उत्तराखंड में प्रवेश करने वालों पर सख्ती कार्रवाई कर रही है। वहीं रुद्रप्रयाग से एक ऐसा अजीबो गरीब मामला सामने आया है जिसे जानकर आप भी हसेंगे। मामला केदारनाथ तिराहे के बेलणी पुल के पास का है जहां पुलिस चेकिंग कर रही थी और बाइक पर दो लोग(महावीर सिंह व सुरेंद्र सिंह लिंगवाल निवासी कार्यालय विद्युत वितरण खंड बेलणी रुद्रप्रयाग) बिन मास्क के सवार थे। पुलिस ने उनको रोका और चालान काटा। तो दोनों पुलिस से बहस करने लगे। दोनो बिजली विभाग के कर्मचारी थे।

रुद्रप्रयाग पुलिस ने विद्युत विभाग के कर्मचारियों के बिन मास्क पहने घूमने पर पुलिस ने दो कर्मचारियों के चालान काट दिए तो गुस्साए बिजली कर्मचारियों ने पुलिस की कोतवाली व जिला जज के आवास की बिजली की काट दी। वहीं पुलिस का कहना है कि दोनों कर्मचारी बिन मास्क के घूम रहे थे। उनका चालान काटा तो उन्होंने उनके साथ भी अभद्रता की और देख लेने की धमकी भी दी। साथ ही गाली ग्लौच का आरोप भी पुलिस ने दोनों पर लगाया है। पुलिस का कहना है कि दोनों ने उनके साथ धक्का मुक्की भी की।

वहीं इसकी शिकायत रुद्रप्रयाग एसपी ने बिजली विभाग के एमडी से की तो हरकत में आते हुए फिर से कोतवाली की बिजली दोबारा जोड़ी गयी। वहीं दोनों बिजली कर्मचारियों को विभाग ने सस्पेंड कर दिया है औऱ साथ ही पुलिस ने दोनों पर मुकदमा दर्ज कर लिया है।विधुत विभाग अधिशासी अभियंता मोहित डबराल का कहना है कि कर्मचारियों ने गुस्से में ये नादानी भरी हरकत की है, जिस पर विभाग के दोनों जेई को सस्पैंड कर दिया गया है, मामले की जांच भी की जा रही है, सूचना के आधे घंटे में लाइन को जोड़ दिया गया है।

वहीं दोनों कर्मचारियों के विरुद्ध कोतवाली रुद्रप्रयाग में मु.अ.सं. 21/2020 अंतर्गत धारा 186/189/332/504/506 ipc पंजीकृत किया गया अभियोग उपरोक्त में विवेचना प्रचलित है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top