देहरादून: देहरादून पुलिस ने एक किडनैपर को गिरफ्तार किया है. उसकी कहानी ने सबको चैंका दिया. राजीव दुआ नाम का ये किडनैपर कोई बदमाश नहीं है, लेकिन वो इतना मजबूर हो गया था कि उसक कोई दूसरा रास्ता सूझा ही नहीं. उसे किडनैपिंग पैसा कमाने और कारोबार में हुए अपने घाटे को पूरा करने के लिए सबसे आसान तरीका लगा. 10 जुलाई को एक नामी कंस्ट्रक्शन व्यापारी का 4 लोगों ने उड़ीसा में अपरहण किया था. इस मामले में वाटेड चल रहे मुख्य आरोपी राजीव दुआ को देहरादून पुलिस और एसओजी ने रायपुर से गिरफ्तार किया. डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने बताया कि कारोबार में नुकसान होने के चलते 4 लोगों ने किडनैपिंग की योजना बनाई और 10 जुलाई को घटना को अंजाम दिया.

हालांकि, उन्हें इस बात की जानकारी लग गई थी कि पुलिस कारोबारी की जगह-जगह तलाश कर रही है.पुलिस की लगातार दबिश से ये लोग घबरा गए और कारोबारी को किराए के घर में छोड़कर फरार हो गए. राजीव दुआ 18 तारीख को अपनी कार से उड़ीसा से देहरादून आ गया और तब से यहीं रह रहा था.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top