उत्तराखंड में चारधाम यात्रा देशभर के श्रद्धालुओं के लिए खोल दी गई है वो भी कुछ शर्तों के साथ जिसे फॉलो करना अनिवार्य है वरना लोगों को उत्तराखंड में प्रवेश करने नहीं दिया जाएगा और उन्हें निराश लौटना होगा। आपको बता दें कि बीते दिन देवस्थानम बोर्ड ने चारधाम यात्रा बाहरी राज्यों के श्रद्धालुओं के लिए खोलने का फैसला किया और गाइडलाइन जारी की। दरअसल ये फैसला लेने की जिम्मेदारी सरकार ने देवस्थानम बोर्ड को दी थी। जिसके बाद देवस्थानम बोर्ड की बैठक हुई और इस बैठक में देश भर के श्रद्धालुओं के लिए यात्रा करने का फैसला लिया गया लेकिनय चारधाम यात्रा की अनुमति उन्हीं को दी जाएगी जिसमे 72 घंटे के अंदर अपना कोरोना टेस्ट कराया हो और रिपोर्ट निगेटिव आई हो बिन रिपोर्ट के उत्तराखंड प्रवेश की अनुमति नहीं होगी।

वहीं इस फैसले पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का कहना है जो लोग कोरोना को मात दे चुके हैं उनकी इच्छा है कि वो चारधाम की यात्रा करें और उन्हीं की इच्छा का सम्मान करते हुए चारोंधामों की यात्रा खोल दी गई है। सीएम ने कहा कि कोरोना को मात दे चुके लोगों। सीएम ने कहा कि हमें उम्मीद है कि वो यहां जरुर आएंगे। सीएम ने कहा कि उनको भगवान ने जीवित रखा है और इसी का धन्यवाद करने लोग चारधाम आना चाहते हैं उनके लिए चारधाम यात्रा खोली गई है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top