कोरोना के कहर के बीच एक के बाद एक कर कई ऐसे मामले सामने आ रहे हैं जिसने लोगों को सदमे में डाल दिया है। कोरोना के बीच केरल में हुए विमान हादसे ने देशवासियों को झकझोर कर रख दिया है। शुक्रवार को केरल के कोझिकोड में वंदे भारत मिशन के तहत दुबई से 190 लोगों को ला रहा एअर इंडिया एक्सप्रेस का विमान कोझीकोड के कारीपुर एयरपोर्ट पर लैंडिंग के वक्त फिसल गया और फिसलने के बाद विमान एयरपोर्ट से सटी घाटी में करीब 50 फीट गहरी खाई में गिरकर दो हिस्सों में टूट गया। इस घटना में विमान के दो पायलटों समेत 18 लोगों की मौत की खबर है जबकि कई यात्री घायल हुए हैं।

जानकारी मिली है कि विमान में 10 बच्चे और चालक दल के चार सदस्य भी शामिल थे। विमान में 54 ऐसे लोग थे घूमने के लिए दुबई गए थे और कोरोना संक्रमण के कारण वहीं फंसे रह गए थे। 6 लोग वो थे जो मेडिकल कारणों की वजह से और तीन शादी के लिए भारत आ रहे थे। विमान में 26 यात्री ऐसे थे जिनकी नौकरी चली गई थी और 28 ऐसे थे जिनका वीज़ा एक्सपायर हो गया था। हादसा होते है लोगों में चीख पुकार मच गई और मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गई। एनडीआरएफ की टीमें मौके पर पहुंची।

इस हादसे में पायलट विंग कमांडर दीपक वसंत साठे की भी मौत हो गई। साथ ही पायलट के साथ 20 लोगों की मौत की खबर है।हादसे में जान गंवाने वाले विमान के कप्तान दीपक वसंत साठे एयर फोर्स के टेस्ट पायलट रह चुके थे. पायलट ने अपनी जान गंवाते हुए 170 यात्रियों को बचाया. हादसे वाली ये फ्लाइट वंदे भारत मिशन की थी.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top