पिथौरागढ़: जिले में भारी बारिश का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। लगातार हो रही भारी बारिश के कारण आपदा लोगों पर काल बनकर आ रही है। जिले में बंगापानी और मुनस्यारी में के बाद चैसर गांव में एक ही परिवार के तीन लोगों दबने से दर्दनाक मौत हो गई। जानकारी के अनुसार आज सुबह तड़के उत्तराखंड के सीमांत जिले पिथौरागढ़ में बड़ा हादसा हो गया। यहां चैसर गांव में सुबह करीब साढ़े चार बजे एक मकान गया। जिससे परिवार मलबे में दब गया।

हादसे में दो बच्चों और उनके पिता की दर्दनाक मौत हो गई है। जबकि मां गंभीर रूप से घायल है। घायल महिला को मलबे से निकाल कर जिला अस्पताल पहुंचाया गया है। मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार की सुबह पिथौरागढ़ के विन विकासखंड के चैसर गांव में खुशाल नाथ का मकान गिर गया। इस घटना में घर में सो रहे खुशाल नाथ 28, पुत्र धनंजय 7 वर्ष और पुत्री निकिता 5 वर्ष की मौके पर ही मौत हो गई। खुशाल नाथ की पत्नी निधि उम्र 25 वर्ष गंभीर रूप से घायल हो गई है।

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस उपाधीक्षक आरएस रौतेला, एसडीआरएफ और पुलिस जवानों के साथ मौके पर पहुंचे और राहत बचाव कार्य कर घायल महिला को जिला अस्पताल पहुंचाया गया। भारी मात्रा में छत का मलबा गिरने से तीनों की मौत हुई। महिला के पैरों में चोट आई है। कमरे में दीवार की ओर सोए होने से महिला बच गई। एसडीएम तुषार सैनी ने मौका मुआयना किया। खतरे को देखते हुए तीन परिवारों को शिफ्ट कर दिया है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top