देहरादून : यौन शोषण के आरोपों में घिरे बीजेपी विधायक महेश नेगी ने बुधवार को अपने बयान दर्ज कराए. सीओ सदर को उन्होंने अपना बयान दर्ज कराया और आरोप लगाया कि उन्हें साजिश के तहत फंसाया जा रहा है। विधायक ने एसएसपी की कार्यप्रणाली पर गंभीर आरोप भी लगाए और डीजीपी से इसकी शिकायत की। विधायक ने बतौर शिकायती पत्र लिखकर एसएसपी की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करते हुए आरोप लगाए। विधायक ने अपने बयानों में कहा कि डीएनए जांच के नाम पर असली अपराध छिपाने की कोशिश की जा रही है. उनके बयान कल भी दर्ज किए जाएंगे. उन्होंने पुलिस के कई सवालों के जवाब दिए औऱ डीएनए टेस्ट के लिए तैयार है लेकिन उन्होंने महिला की गिरफ्तारी अभी तक न होने पर नाराजगी जाहिर की और डीजीपी से एसएसपी की शिकायत की.

बता दें कि विधायक महेश नेगी ने गुरुवार को डीजीपी को एक शिकायती पत्र सौंपा और देहरादून एसएसपी की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए गंभीर आरोप लगाए। विधायक महेश नेगी ने सीधे तौर पर एसएसपी अरुण मोहन जोशी पर केस की सही तरीके से जांच न करने का आरोप लगाया। उन्होंने लिखा कि उनकी पत्नी ने महिला के खिलाफ ब्लैकमेलिंग की एफआईआर दर्ज कराई थी लेकिन उस पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। विधायक महेश नेगी ने डीजीपी से कहा कि देहरादून एसएसपी ने ना तो महिला से पूछताछ की और ना ही अब तक उसे गिरफ्तार किया.

बता दें कि एक महिला ने बीजेपी विधायक महेश नेगी पर काफी समय से यौन शोषण करने का आरोप लगाया। महिला का कहना है कि उसकी बेटी बीजेपी विधायक महेश नेगी की है। महिला ने डीएनए टेस्ट की मांग की है। वहीं विधायक की पत्नी ने महिला के खिलाफ ब्लैकमेल करने औऱ 5 करोड़ रुपये मांगने का आरोप लगाते हुए नेहरु कॉलोनी थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। इससे उत्तराखंड में राजनीति गर्मायी हुई है। कांग्रेस ने सरकार को जमकर घेरा है। और साथ ही अब ये हर न्यूज चैनल का अहम मुद्दा भी बना हुआ है। सीएम ने इस पर बयान देते हुए कहा कि पुलिस अपना काम कर रही है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top