चम्पावत : इन दिनों कोरोना कहर लोगों को डरा रहा है। कोरोना के मामले तो तेजी से बढ़ ही रहे हैं। अब मौत के मामलों ने भी रफ्तार पकड़ ली है। मौत के आंकड़े भी बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना के डर से लोग अस्पतालों में आने से भी घबरा रहे हैं। ऐसा ही मामला चम्पावत में सामने आया है। महिला ने कोरोना के डर से प्रसव अस्पताल में काराने की बजाय वार्ड आया सेघर में करवाया, जिसके चलते जच्चा और बच्चा दोनों की मौत हो गई।

वार्ड आया से घर पर प्रसव कराने के दौरान जच्चा और बच्चा दोनों की मौत हो गई। मामला वार्ड तीन के अंबेडकर नगर कॉलोनी का है। प्रसव कराने वाली आया संयुक्त चिकित्सालय की आउटसोर्स कर्मचारी बताई जा रही हैं। मृतका के पति ने कहीं शिकायत नहीं कराई, लेकिन नवजात बच्चे की मौत के साथ ही पत्नी की मौत से पति सदमे में है।

जानकारी के अनुसार अंबेडकर नगर निवासी विनोद विश्वकर्मा की गर्भवती पत्नी सीता को गुरुवार को दोपहर करीब एक बजे प्रसव पीड़ा हुई। इस पर पति ने पहले से संपर्क में रही संयुक्त चिकित्सालय की एक आउटसोर्स आया को फोन किया तो वह प्रसव कराने के लिए घर पर ही पहुंच गई। बताया जा रहा है कि दो घंटे बाद महिला ने नवजात को जन्म दिया, लेकिन जन्म के कुछ ही देर बाद ही उसकी मौत हो गई। बच्चे की मौत के बाद मां की भी मौत हो गई।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top