पिथौरागढ़ : प्रदेशभर में भारी बारिश का कहर जारी है। इस साल बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित पिथौरागढ़ जिले के धारचूला विधानसभा क्षेत्र के मुनस्यारी और बंगापानी क्षेत्र हुए हैं। बंगापानी आपदा प्रभावितों की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। बंगापानी में फिर बादलों ने कहर बरपाया, जिसके चलते भारी नुकसान हुआ है। गनीतम रही कि लोगों ने समय रहते अपनी जान बचा ली।

बारिश का कहर जारी है। पिथौरागढ़ जिले में बारिश ने फिर तबाही मचाई है। मूसलाधार बारिश ने आपदाग्रस्त बंगापानी क्षेत्र में फिर व्यापक नुकसान पहुंचाया है। बारिश के बाद गांव में पहाड़ी से भारी मात्रा में मलबा आ गया। मलबे से एक होटल दब गया है। नाले में एक बाइक बह गई, जबकि दो वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं। लोगों ने राहत कार्यों में तेजी लाने के साथ उनके स्थाई विस्थापन की मांग भी की है। लगातार हो रही बारिश से लोग खासे परेशान हैं।

बंगापानी के साथ ही लुम्ती गांव में भी कई मवेशी नदी में बह गए हैं। गांव में चारों तरफ मलबा ही मलबा पटा हुआ है। इलाके की सड़कें ही नहीं घरों तक में मलबा भर गया है। हालात देख लोग सहमे हुए हैं। पिथौरागढ़ की लाइफ लाइन पिथौरागढ़-घाट सड़क तीन जगहों पर मलबा आने से पूरी तरह बंद हो गई है। इसके अलावा 20 से अधिक सड़कों पर मलबा आया है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top