almorahहल्द्वानी : अपनी लापरवाही के लिए सुर्खियों में रहने वाला सुशीला तिवारी अस्पताल एक बार फिर से कोविड अस्पताल बनने के बाद से फिर से सुर्खियों में आ गया है। हालात इतने बदतर हो गए हैं कि अब सुशीला तिवारी अस्पताल की अव्यवस्था पर सियासत भी शुरू होने लगी है। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता दीपक बलुटिया का कहना है कि सुशीला तिवारी अस्पताल में कोरोना के मरीजों के साथ न सिर्फ लापरवाही भरा बर्ताव हो रहा है बल्कि 1 दिन पूर्व संदिग्ध रूप से अस्पताल में ही एक मरीज की मौत हो गई, प्रशासन महज मजिस्ट्रेट जांच कराकर मामले में खानापूर्ति कर रहा है, क्योंकि इससे पूर्व भी कई मामलों में मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए गए लेकिन किसी भी जांच के बाद कोई कार्यवाही नहीं हुई। पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी द्वारा स्थापित इस अस्पताल से पूरे कुमाऊं क्षेत्र के लोगों का इलाज हो सके इस मंशा से इसे स्थापित किया गया था लेकिन वर्तमान स्वास्थ्य व्यवस्था इस अस्पताल को बदनाम करने में लगी है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top