देहरादून : उत्तराखंड से बड़ी खबर है। आपको बता दें कि खेल और शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे के लायज़निंग अफसर व सहायक अभियन्ता सुरेंद्र नेगी को निलंबित कर दिया गया है। बकायदा लोक निर्माण विभाग सचिव ने इसका आदेश भी जारी किया है। आपको बता दें कि शिक्षा मंत्री के लाइजनिंग अधिकारी सुरेंद्र नेगी 10 जुलाई को उत्तरकाशी दौरे पर बिना अपने पीडब्ल्यूडी विभाग को कोई सूचना देकर गए थे। सुरेंद्र ने कोई एनओसी नहीं ली थी। इतना ही नहीं उत्तरकाशी जाकर जिला शिक्षा अधिकारी के साथ भी लाइजनिंग अफसर ने अभद्रता की थी जिसके बाद यह मामला सुर्खियों में भी आया था। आरोप है कि उन्होंने अधिकारी को थप्पड़ मारने तक की बात कही थी। बताया जा रहा है कि इनकी तैनाती पहाड़ में थी और उधम सिंह नगर से ये अटैच थे। शासन ने इसे कर्मचारी आचरण नियमावली का उल्लंघन भी माना है।

थप्पड़ मारने की दी थी शिक्षा अधिकारी को धमकी

आपको बता देंं बीते दिनों उत्तरकाशी में शिक्षा मंत्री के लाइजनिंग अफसर सुरेंद्र पाल सिंह ने पूर्व में भी एक बेसिक शिक्षा अधिकारी को ना सिर्फ फटकार लगाई बल्कि बाकायदा चिट्टी में थप्पड़ मारने की बात भी कही थी, वो चिट्ठी सोशल मीडिया में भी खूब वायरल हुई थी। सुरेंद्र पाल सिंह पर बेसिक शिक्षा अधिकारी ने आरोप लगाया था कि मंत्री के स्टॉफ ने उन्हें थप्पड़ मारने की धमकी दी है। उनकी चिट्ठी में साफ लिखा हुआ था कि “देखते देखते थप्पड़ पड़ जाता है मैं तुम्हे थप्पड़ मार दूंगा तो तुम कुछ नहीं कर पाओगे।

वहीं बेसिक शिक्षा अधिकारी ने इसकी शिकायत अरिवंद पांडे से भी थी, जिसमें लिखा था वो उनके नियम विरुद्ध पोस्टिंग के लिए दबाव डाल रहे हैं औऱ जब उन्होंने सेवा नियमावली का हवाला दिया और पोस्टिंग के लिए असमर्थता जताई तब उन्होंने अभद्रता कर कहा कि मुझसे इतना एटीट्यूड क्यो दिखा रहे हो, जितना कहा जा रहा है उतना ही करें। सुरेंद्र पाल सिंह ने कहा कि यहां पर देखते देखते थप्पड़ पड़ जाता है में तुम्हे थप्पड़ मार दूंगा तो तुम कुछ नही कर पाओगे।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top