सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत केस की जांच सीबीआई को सौंपी। कोर्ट के इस फैसले से सुशांत के दोस्त, परिवार वाले और फैंस के साथ डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे भी काफी खुश हैं। डीजीपी समेत कई बॉलीवुड हस्तियों ने और परिवार वालों ने कहा कि सत्मेव जयते, यह सत्य की जीत है. वहीं, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर टिप्पणी पर डीजीपी ने रिया चक्रवर्ती को घेरा।

डीजीपी ने कहा कि मैं कोर्ट के फैसले से बहुत खुश हूं. ये अन्याय के विरुद्ध न्याय की जीत है. यह 130 करोड़ लोगों के भावनाओं की जीत है. अब लोगों के अंदर उम्मीद जगी है कि अब सुशांत को न्याय मिलेगा और सच्चाई सबके सामने आएगी। यह पूरे देश के लिए बहुत बड़ी खबर है. डीजीपी ने मुंबई पुलिस के लिए कहा कि हम लोगों पर आरोप लगाए जा रहे थे कि आपने क्यों केस किया. हमको जांच नहीं करने दी गई और हमारे ऑफिसर से एक कैदी की तरह ट्रीट किय गया जिससे साफ है कि कुछ गड़बड़ जरुर है। साथ ही कहा कि नतीजा आएगा और निश्चित आएगा, क्योंकि यह केवल एक परिवार की लड़ाई नहीं है, यह हिंदुस्तान की जनता की लड़ाई है. संजय राउत के बयान पर डीजीपी ने कहा कि किसी राजनीतिक व्यक्ति पर आरोप लगाना उचित नहीं है. पूरे देश को पता चल गया कि बिहार पुलिस कोई गलत नहीं कर रही थी.

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि यह बहुत हाई प्रोफाइल केस है. कई लोगों को पोल खुल जाने का डर सता रहा है. ऐसे में सीबीआई की जांच में सबकुछ सच सामने आएगा. वहीं, रिया चक्रवर्ती के बयानबाजी पर डीजीपी ने कहा कि बिहार के सीएम पर कमेंट करने की औकात रिया चक्रवर्ती की नहीं है. डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सपोर्ट के कारण ही सुशांत केस में न्याय मिलने की उम्मीद बनी है. अपनी बात दोहराते हुए डीजीपी ने कहा कि रिया की हैसियत नहीं है कि वो बिहार के सीएम के लिए कुछ कहे।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top