रामनगर : ट्रैफिक सहित घने जंगलों और पार्कों में जानवरों की हिफाजत के लिए ड्रोन कैमरे से निगरानी रखने की पहल शुरु की गई है लेकिन अब ड्रोन ही गायब हो जा रहे हैं। जी हां ऐसा ही हुआ है रामनगर में। जहां शहर कोतवाली पुलिस ने राजाजी पार्क निदेशक के कार्यालय से गायब ड्रोन के मामले में गुमशुदगी दर्ज कर ली है और ड्रोन कहां गया किसने चुराया इसकी तलाश शुरु कर दी है। रामनगर कोतवाली निरीक्षक शिशुपाल नेगी ने जानकारी दी कि राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क के भंडार प्रभारी सुनील कुमार ने ड्रोन की गुमशुदगी दर्ज कराई है। जानकारी मिली है कि है कि ड्रोन पार्क निदेशक कार्यालय परिसर से खोया है। पूर्व निदेशक पीके पात्रो के कार्यकाल में यह ड्रोन पार्क प्रशासन को मिला था। पार्क में गश्त के दौरान ड्रोन की जरुरत को देखते हुए इसका प्रयोग किया जाता था लेकिन अब ड्रोन ही गायब हो गया है। काफी ढूंढने के बाद भी ड्रोन का पता नहीं चल पाया है। इसकी किसी को जानकारी नहीं है कि ड्रोन कब और कहां से गायब हुआ। कोतवाली पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर ली है और मामले की जांच शुरु कर दी है।

वहीं शहर कोतवाली के कोतवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि जांच में पाया गया है कि परिसर में ताले नहीं टूटे हैं। ड्रोन किसी को हैंडओवर हुआ होगा, इस बारे में कर्मचारियों और अफसरों से जानकारी ली जाएगी।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top