त्रिपुरा में पिछले 24 घंटों में बीएसएफ के दो जवानों सहित चार और लोगों की मौत हो गई है। कोरोना ने बीएसएफ समेत सेना में भी कहर बरपाना शुरु कर दिया है। वहीं जानकारी मिली है कि त्रिपुरा में 700 से अधिक बीएसएफ के जवान कोरोना वायरस से पहले से ही संक्रमित है, लेकिन बीएसएफ में कोरोना संक्रमण से मौत होने की यह पहली घटना है।

मिली जानकारी के अनुसार राज्य में पहली बार कोरोना से बीएसएफ की 113 बटालियन में तैनात 52 वर्षीय जवान की मौत हुई है, जो पश्चिम त्रिपुरा में लाल टिल्ला सीमा चौकी पर तैनात था और 28 जुलाई से बीमार था जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था औऱ कोरोना सैंपल लिया गया था।जवान की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जवान को कुछ दिनों के लिए कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया। उसके बाद उसे अगरतला सरकारी मेडिकल कॉलेज भेजा गया।जवान उत्तर प्रदेश के मैनपुरी के रहने वाले था और हालत बिगड़ने पर वेंटिलेटर पर रखा गया था और उसकी मौत हो गयी। वह 30 मई को छुट्टी के बाद लौटे था और बाद में नलकाता में 133 बलाटियन में क्वारंटीन सेंटर में रखा गया था।

वहीं दूसरा जवान खोवाई जिले के तेलियामुरा में 80 बीएन बीएसएफ में तैनात था। जवान को एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया जहां रेपिड एंटिजन टेस्ट किट से उसके नमूने का परीक्षण कराया गया और बाद में जवान को एजीएमसी स्थानांतरित किया गया जहां जवान की मौत हो गयी। त्रिपुरा में कोराना संक्रमितों की कुल संख्या 6,164 तक पहुंच गयी है और 147 नए मामले सामने के बाद कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 1,988 तक पहुच गयी।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top