देहरादून : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने केदारनाथ दौरे के दौरान धाम में पुलिस कैंप में बनी ब्रह्म वाटिका की जमकर तारीफ की थी। लेकिन, अब ये वाटिका मुरझाने लगी है। कोरोना काल ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में लिया है। ऐसे में धाम में भी पुलिस के जवान लगातार कोरोना से लोगों को बचाने के काम में जुटे हैं। कई पुलिसकर्मी खुद भी कोरोना की चपेट में आ गए। कोरोना के कारण ही धाम में बनी इस वाटिका की देखरेख नहीं हो सकी, जिस कारण इसमें उगे बह्म कमल पूरी तरह गायब हो गए।

न्यूज एजेंसी ANI के अनुसार वाटिका बुरी हालत में हैं। केदारनाथ धाम में मंदाकिनी नदी के किनारे ब्रह्म वाटिका 2015 में तैयार की गई थी। पुलिस के जवानों की नियमित ड्यूटी तय की गई है। पहली बार यहां सात ब्रह्मकमल के छोटे पौधे रोपे गए थे। 2016 में वाटिका में पहला ब्रह्मकमल खिला।

2017 में पहले सप्ताह में ही वाटिका में ब्रह्म कमल के पांच पौधों पर एक साथ फूल खिले थे। रुद्रप्रयाग के एसपी नवनीत भुल्लर ने बताया कि पहले बर्फबारी और अब कोविड-19 के चलते धाम में मौजूदगी बेहद कम रह गई है। इसी वजह से वाटिका की देख-रेख नहीं हो सकी। आलम यह है कि वाटिका में ब्रह्म कमल पूरी तरह समाप्त हो गए हैं। इनको अब फिर से तैयार किया जाएगा।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top