शहीद हवलदार राजेंद्र सिंह नेगी का पार्थिव शरीर बुधवार देर शाम देहरादून लाया गया। श्रीनगर से विशेष विमान से पार्थिव शरीर को जौलीग्रांट लाया गया। इसके बाद सेना के वाहन से मिलिट्री अस्पताल ले जाया गया। जहां से आज सुबह पार्थिव शरीर को शहीद के अंबीवाला स्थित घर पर लाया गया। लोगों को खासी भीड़ शहीद को श्रद्धांजलि देेने के लिए जमा हुई। पति को ताबूत में देख पत्नी चीख चीख कर रोने लगी। मां बेसुध हो गई. बता दें कि सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत शहीद के आवास में शहीद को श्रद्धांजलि देने पहुंचे। इसी के साथ डीआईजी और देहरादून एसएसपी अरुण मोहन जोशी समेत एसपी सिटी श्वेता चौबे और देहरादून डीएम ने भी शहीद को श्रद्धांजलि अर्पित की और नमन किया।

पति को ताबूत में देख पत्नी चीख-चीख कर रोने लगी और मां बेसुध हो गई। मां के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। मां ने अपना बेटा खो दिया। हालांकि परिवार को गर्व है बेटे की शहादत पर लेकिन शहीद के परिवार की और बच्चों की चिंता भी है। शहीद के पिता ने सीएम से मदद की गुहार लगाई और सीएम ने परिवार को हर संभव मदद का आश्वासन दिया।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top