काशीपुर : काशीपुर के आईटीआई थाना क्षेत्र के एक पुराने मामले में कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने लेखपाल समेत 4 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। लेखपाल ने कुछ लोगों के साथ मिलकर फर्जी दस्तावेज और मुहर बनाकर जमीन की विरात को बदल अपने नाम कराने का काम किया था। मामले में अब कोर्ट ने पुलिस को मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए हैं, जिस पर मामला दर्ज कर लिया गया।

जानकारी के अनुसार काशीपुर के परमानंदपुर गांव, हाल निवासी मोहल्ला पक्काकोट निवासी देवेंद्र कुमार ने न्यायालय में धारा-156(3) के तहत प्रार्थना पत्र दिया था। इसमें कहा गया कि उसकी परमानंदपुर गांव में दभौरा मुस्तहकम में आधा बीघा जमीन है। इस पर उसके साथ ही उसका तहेरा भाई राजकुमार काबिज है। इस जमीन पर यूपी के सीवान, थाना रोनापार, सागड़ी जिला आजमगढ़ निवासी बृजभान, अवधभान, रामकुंवर यादव कब्जे का प्रयास करते रहे हैं।

आरोप है कि आरोपियों ने अक्तूबर 2018 में उसके साथ मारपीट भी की थी। उसको पता चला कि आरोपियों ने उसकी जमीन को हड़पने के लिये फर्जी कागजात तैयार कर लेखपाल पूरन सिंह नबियाल को अपने साथ मिलाकर फर्जी शपथपत्र तैयार कर जमीन को विरासतन अपने नाम दर्ज करा लिया है। सूचना के अधिकार के तहत मांगी गई सूचना में शपथपत्र चढ़ा हुआ नहीं है। नोटरी अधिवक्ता ने भी अपने बयानों में आरोपियों द्वारा फर्जी मोहरें बनाकर शपथपत्र बनवाने की बात कही।

थाना आईटीआई ने जो जांच रिपोर्ट न्यायालय में भेजी है, उसमें भी देवेंद्र का कब्जा दिखाया गया है और आरोपियों का आजमगढ़ रहना दिखाया गया है। लेखपाल ने आरोपियों से मिलकर फर्जी दस्तावेज और मोहर का प्रयोग कर जमीन आरोपियों के नाम दर्ज कराने का प्रयास किया है। न्यायालय के आदेश पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 420, 467, 468, 471 के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

The post उत्तराखंड : लेखपाल ने 2 गज जमीन के लिए किया ये काम, अब जाएगा जेल! first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top