देहरादून : कोई मां इतनी बेरहम कैसे हो सकती है। मां की ममता और मां का प्यार ही तो है जिसे कोई पूरा नहीं कर सकता चाहे लाख कोशिश करे एक बच्चे को मां जैसा प्यार कोई नहीं दे सकता लेकिन क्या कोई मां इतना बेरहम हो सकती है जो दो दिन पहले दुुनिया में आए बच्चे को लावारिस छोड़ दे। जी हां ऐसा ही मामला देहरादून से सामने आया है जहां एक बेरहम मां अपनी बच्ची को लावारिस छोड़ गई। जब लोगों की नजर उस पर पड़ी तो इसकी सूचना नेहरु कॉलोनी थाना पुलिस को दी गई।  नेहरू कॉलोनी पुलिस ने बच्ची को उठाकर उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया. यह मामला नेहरू कॉलोनी थाना क्षेत्र के सरस्वती विहार में चर्चाओं का विषय बना रहा.

मिली जानकारी के अनुसार थाना नेहरू कॉलोनी पुलिस को बीते दिन सुबह करीब 7:30 सूचना  मिली कि रिस्पना पुल के पास सारथी बिहार में नाले के किनारे एक नवजात शिशु पड़ा है जो जीवित है। इसकी सूचना पर थाना नेहरु कॉलोनी से पुलिस बल तत्काल मौके पर पहुँचा। मौके पर नवजात के परिजनों की शिनाख्त करने की कोशिश की गई लेकिन सफलता नहीं मिली। वहीं पुलिस ने मौके पर 108 एम्बुलेंस के माध्यम से उक्त नवजात को कैलाश हॉस्पिटल ले जाकर भर्ती कराया।। जानकारी मिली है कि बच्ची का उपचार चल रहा है और वो स्वस्थ है। पुलिस ने जानकारी दी कि प्रथम दृष्टया नवजात बच्ची को सुबह किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा जानबूझकर छोड़ा गया है। नवजात बच्ची के संबंध में जानकारी के लिए आसपास के लोगों से पूछताछ की जा रही है। जांच के दौरान ही पुलिस द्वारा इस संबंध में अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा अपराध 397/20 धारा 317 ipc में  अभियोग पंजीकृत किया गया है।

The post देहरादून : बेरहम मां अपनी 2 दिन की नवजात बच्ची को नाले किनारे फेंक गई, लोगों ने सुनी चीख first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top