मदन कौशिक यूं तो शासकीय प्रवक्ता हैं, बातों के धनी हैं। उनकी बातों का जादू है कि मुख्यमंत्री से लेकर तमाम लोग उनकी बातों के महिमा मंडल में बंधे चले आते हैं। बातों का ही कमाल है कि मदन कौशिक हरिद्वार की गड्ढों भरी सड़क लोगों की भुलाकर चुनाव जीत लेते हैं। परंतु मंत्री जी जब मीडिया से बात करते हैं तो भी बातों के बतोले दागते हैं।

आज की ही बात देखिए मंत्री जी मीडिया के से मुखातिब थे और बातों के बाण चलाये जा रहे थे ,ये जानते हुए भी दाई से पेट नही छुपाते। मंत्री जी बोले राज्य सरकार ने स्वरोजगार उपलब्ध कराया, मंत्री जी के पास ऐसे 1000 नामों की लिस्ट है क्या जिनको लॉकडाउन के बाद स्वरोजगार मिला हो। युवा बैंकों के चक्कर काट काट कर घर बैठ गए मगर मंत्री जी की बातोलेबाजी में कोई कमी नहीं। और तो और जब कोरोना के कम सैम्पल की बात मीडिया ने पूछी तो मंत्री जी अपनी सरकार की नाकामी छुपाने के लिए राजस्थान छत्तीसगढ़ के हालात गिनाने लगे। अरे मंत्री जी राजस्थान छत्तीसगढ़ की सरकार मैला खाएंगी तो आप उनसे मुकाबला करोगे क्या. यहां उत्तराखंड में सरकार आपकी है और आपकी ये बेनिहायत वाहियात बात जनता और मीडिया के गले नहीं उतरती। अगली बार मीडिया को सॉलिड तथ्यों के साथ अपनी सरकार की उपलब्धियां बताइएगा। बातों के बतोले मत चलाइये…ये मीडिया है सब जानती है।

The post सुनिए मदन कौशिक के वाहियात तर्क, जनता और मीडिया को मूर्ख समझा है...हद्द है भाई हद्द है first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top