इंतज़ार की घड़ी ख़त्म …….. राजेन्द्र जोशी  देहरादून : उत्तराखंड में गीत, संगीत और लोकगीत की यदि कहीं बात आए और रजनीकांत सेमवाल का नाम न आए ऐसा तो हो नहीं सकता। लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी के बाद लोकगीतों में उत्तराखंड की प्राकृतिक सुंदरता और संस्कृति का यदि कहीं समावेश मिलता है तो वह रजनीकांत […]



0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top