‘देहरादून : संसद से लेकर पूरे देश में इन दिनों किसानों और किसान बिल को लेकर मामला गर्माया हुआ है। किसान बिल राज्यसभ में पेश किया गया। मोदी सरकार के किसान बिल को लेकर किसानों ने नाराजगी जाहिर की औऱ जमकर हंगामा भी किया। विपक्षी दलों ने भी सरकार के विधेयक के खिलाफ प्रदर्शन किया।वहीं  किसानों को लेकर हरीश रावत ने भी चिंता जाहिर की है। हरीश रावत अक्सर किसानों के हित के लिए लड़ते आए हैं और किसानों को उनका हक दिलाने के लिए कई रैलियां कर चुके हैं औऱ धरने दे चुके हैं। एक बार फिर से हरीश रावत धरने देंगे।

जी हां इसकी जानकारी हरीश रावत ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर कर दी है। हरीश रावत ने लिखा कि मुझे इकबालपुर चीनी मिल से जुड़े हुये किसानों की बहुत चिंता है, उनका 2 साल पुराना गन्ने का भुगतान भी नहीं हुआ है, इस वर्ष का भी भुगतान आधा-अधूरा हुआ है, किसान बहुत खराब स्थिति में हैं। मेरी हार्दिक इच्छा है कि एक दिन मैं, इकबालपुर चीनी मिल पर धरना दूं, लेकिन डर एक बात का है कि लोग बड़ी संख्या में आ जाते हैं और मैं नहीं चाहता कि मुझको लेकर के कोरोना फैलाने का आक्षेप लगे, यदि हमारे दोस्त मदद करने को तैयार हों, तो 1 दिन मैं वहां पर धरना देकर के जो किसानों के प्रति हमारा कर्तव्य है उसको पूरा करना चाहता हूं, ताकि इकबालपुर चीनी मिल राज्य के विमर्श व चर्चाओं में सम्मिलित हो सके और ये सरकार जो बिल्कुल अनदेखी कर रही है, उस पर दबाव बनाया जा सके।Trivendra Singh Rawat

The post हरदा इनके हक के लिए एक बार फिर देंगे धरना, बोले- लोग बड़ी संख्या में आ जाते हैं.. first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top