बीएमसी ने कंगना रनौत के 48 करोड़ के आलीशान ऑफिस में तोड़फोड़ शुरु की है जिसका कंगना ने जवाब देते हुए कहा है कि मेरा मंदिर तोड़ लेकिन मेरा मंदिर फिर बनेगा. कंगना ने लिखा कि आज इतिहास फिर खुद को दोहराएगा राम मंदिर फिर टूटेगा मगर याद रख बाबर यह मंदिर फिर बनेगा यह मंदिर फिर बनेगा। वहीं इस बीच कंगना ने बीएमसी के खिलाफ कोर्ट में अपील की थी। हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हैं बीएमसी की कार्रवाई पर रोक लगा दी है। जिससे कंगना को राहत मिली है। वहीं कंगना मुंबई पहुंचने वाली है। हाईकोर्ट ने कंगना के दफ्तर पर बीएमसी की कार्रवाई पर रोक लगा दी है। कंगना ने हाईकोर्ट में बीएमसी के खिलाफ अपील की थी जिस पर हाईकोर्ट ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई की और कार्रवाई पर रोक लगा दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बीएमसी ने कोर्ट के आदेश की धज्जियां उड़ाई है। 15 जुलाई को मुंबई हाईकोर्ट ने कोरोना के कहर के मद्देनजर एक आदेश पारित किया था, जो 31 अगस्त तक था. इसमें साफ-साफ कहा गया था कि किसी भी किस्म का निर्माण ध्वस्त नहीं किया जा सकता है. 30 सितंबर तक इस आदेश को फिर बढ़ा दिया गया था. ऐसे में बुधवार को बांद्रा स्थित कंगना रानौत के ऑफिस को बीएमसी ने अवैध निर्माण के नाम पर ध्वस्त कर दिया. इस मसले पर कंगना के वकीलों ने हाईकोर्ट का रुख किया है, जहां आज ही सुनवाई हुई और बीएमसी की कार्रवाई पर रोक लगाई है।

The post बड़ी खबर : बीएमसी की कार्रवाई पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक, कंगना ने दिया जवाब first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top