देहरादून- उत्तराखंड में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। बीते दिन आए मामलों से हर कोई हैरान परेशान है। बीते दिन शनिवार को प्रदेश में 2078 मामले सामने आए। सबसे ज्यादा मामले देहरादून में आए। देहरादून में 600 से ज्यादा मामले सामने आए। वहीं बता दें कि बीते दिनों नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश कोरोना पॉजिटिव पाई गईं थी जो कि कल बेटे के साथ एयर एंबुलेंस के जरिए देहरादून इलाज के लिए पहुंची लेकिन मैक्स में उन्हें वीआईपी कोटे का कमरा नहीं मिला। सोचिए जब वीआईपी का ये हाल है तो आम जनता का क्या हाल हो रहा होगा। गरीब को कैसा इलाज मिल रहा होगा। जव वीआईपी को ही कमरा नहीं मिला तो गरीब आदमी का इलाज कैसे हो पा रहा होगा ये अपने आप में बड़ा सवाल है।

आपको बता दें कि बीते दिन हल्द्वानी से एयर एंबुलेंस के जरिए कोरोना संक्रमित पाई गई नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर इंदिरा हृदयेश को देहरादून के मैक्स हॉस्पिटल ले जाया गया तो वहां उन्हें प्राइवेट रूम नहीं मिला मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कई घंटे इंतजार के बाद जब नेता प्रतिपक्ष को कमरा नहीं मिला वह नाराज होकर दूसरे अस्पताल में उपचार कराने चली गईं। बता दें कि नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश इस वक्त सिनर्जी अस्पताल में भर्ती हैं जहां उनका इलाज चल रहा है। इससे पहले नेता प्रतिपक्ष सुशीला तिवारी अस्पताल में बेहतर चिकित्सा व्यवस्था ना मिलने के कारण वो घर आ गई थीं। बेहतर इलाज के लिए नेता प्रतिपक्ष ने देहरादून मैक्स अस्पताल का रुख किया लेकिन निराशा हाथ लगी। कमरा न मिलने के कारण वो नाराज हो गईं और सिनर्जी में चली गई। इससे कांग्रेस समेत नेता प्रतिपक्ष के हल्द्वानी में उनके समर्थकों में रोष है।

The post देहरादून : कोरोना पॉजिटिव इंदिरा हृदयेश को नहीं मिला मैक्स अस्पताल में कमरा, नाराज होकर गईं first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top