देहरादून : उत्तराखंड में सरकार ने मेडिकल शिक्षा में बड़ा फैसला लिया है। एमबीबीएस में दाखिले के लिए सीटें पहले से ही निर्धारित हैं। इन सीटों के फुल हो जाने के बाद कई छात्रों को एडमिशन नहीं मिल पाता है। डाॅक्टरी करने का सपना बुनने वाले इन छात्रों के लिए सरकार ने बड़ा निर्णय लिया है। इससे हजारों छात्रों को लाभ होगा।

स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि राजकीय मेडिकल काॅलेज श्रीनगर में दो वर्षीय एमबीबीएस डिप्लोमा कोर्स करने के अनुमति दी गई है। डिप्लोमा कोर्स एनसथीशिया, ग्यानाकोलाॅजी, रेडियोलाॅजी, पीडियाट्रिक, नैत्र विज्ञान, ईएनटी और फैमिली मेडिसन में कराए जाएंगे।

उत्तराखंड सरकार ने आज उत्तरकाशी के लोगों सहित मेडिकल की पढ़ाई करने की चाह रखने वालों को सौगात दी। एक ओऱ जहां सीएम ने उत्तरकाशी में दो विद्युत परियोजनाओं का लोकार्पण किया तो वहीं स्वास्थ्य के साथ ही मेडिकल एजुकेशन की दिशा में अहम फैसला लिया है। जी हां सरकार ने श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में 5 विषयों पर पोस्ट एमबीबीएस कोर्स की मंजूरी दे दी है जिससे पहाड़ में मेडिकल की पढ़ाई करने के इच्छुक बच्चों को बाहरी राज्यों की ओर रुख करने की जरुरत नही है। एमबीबीएस की कोर्स की मंजूरी के बाद अब पहाड़ के युवक-युवती उत्तराखंड में ही एमबीबीएस का कोर्स कर पाएंगे और डॉक्टर बन सकेंगे।

बता दें कि इससे पहाड़ के बच्चों को मेडिकल की पढ़ाई के लिए दूसरे राज्यों में नहीं जाना पड़ेगा और युवाओं का डॉक्टर बनने का सपना पहाड़ में ही पूरा हो सकेगा। साथ ही पहाड़ के अस्पतालों में भी स्वास्थ्य सेवाएं और बेहतर हो सकेगी। आपको बता दें कि सचिव स्वास्थ्य अमित सिंह नेगी ने आदेश जारी कर दिये है।

The post उत्तराखंड सरकार का बड़ा फैसला : डाॅक्टर बनने का सपना होगा पूरा, MBBS में होगा डिप्लोमा first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top