बिजनौर: नैनीताल से देहरादून आते वक्त शनिवार देर रात तहसीलदार की सरकारी गाड़ी हादसे का शिकार हो गई थी, जिसमें तहसीलदार समेत तीन लोगों की मौत हो गई थी। बिजनौर जिले के श्रवणपुर गांव के सामने पूर्वी गंगा नहर में रुड़की तहसीलदार सुनैना राणा सहित तीन लोग गाड़ी सहित डूब गए थे। गोताखोरों और स्थानीय लोगों की मदद से डूबे लोगों की तलाश कर शव निकाल लिए गए हैं। गाड़ी को भी नहर से बाहर निकाल लिया गया है। डीएम और एसपी समेत पुलिस बल मौके पर है।

शनिवार की रात को रुड़की तहसीलदार सुनैना राणा सहित, एक चपरासी और गाड़ी चालक नैनीताल में आयोजित प्रशिक्षण लेकर वापस रुड़की लौट रहे थे। नजीबाबाद में श्रवणपुर के सामने उनकी गाड़ी अनियंत्रित होकर पूर्वी गंगा नहर में गिर गई। स्थानीय लोगों और गोताखोरों की मदद से तहसीलदार सहित तीनों लोगों रात भर तलाश की गई। क्रेन की मदद से तहसीलदार की गाड़ी को रेस्क्यू कर नहर से बाहर निकाला गया। तहसीलदार और अन्य तीन लोगों के शवों को बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

बिजनौर एसपी डा. धर्मवीर सिंह ने बताया कि शनिवार की रात के समय गाड़ी नहर में गिर गई। गाड़ी में उत्तराखंड के एक अधिकारी सहित तीन लोग सवार थे। हरिद्वार के डीएम व एसपी को भी मामले में अवगत कराया गया। रेस्क्यू कर रुड़की तहसीलदार सहित तीनों के शवों को निकाल लिया गया है। शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। डीएम रमाकांत पांडेय ने बताया कि श्रवणपुर के पास डूबे लोगों को निकालने के लिए एसपी के नेतृत्व में रात भर रेस्क्यू आपरेशन चलाया गया। शवों को निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। साथ ही उत्तराखंड के अफसरों को भी मामले से अवगत करा दिया गया है।

The post बड़ी खबर : गोताखोरों की मदद से निकाले गए नहर में डूबे लोगों के शव, मौके पर DM और SP first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top