File Photo

 

पिथौरागढ़: ऑल वेदर रोड निर्माण के दौरान एनएच कर्मियों की मनमानी लोगों पर भारी पड़ रही है। एनएच की मनमानी लोगों पर भारी पड़ रही है। भाजपा के संस्थापक सदस्य को हल्क हार्ट अटैक आया, जिसके बाद उनको अस्पताल लेजाया जा रहा था। इस दौरान वो सड़क पर मलबा गिरा होने के कारण जाम में फंस गए।

लोगों ने एनएच कर्मियों सेसड़क से मलबा हटाने के लिए कहा, लेकिन कर्मचारियों ने इंकार कर दिया। इससे लोगों में खासा गुस्सा है। लोगों के हंगामा करने के बाद बमुश्किल जाम खोला गया और उसके बाद उनको अस्पताल पहुंचाया गया। बेड़ा गांव निवासी गोपाल सिंह मेहता को मंगलवार की सुबह सीने मेें दर्द महसूस हुआ। वे पहले से ही हार्ट की समस्या से जूझ रहे हैं।

जिला अस्पताल जाते वक्त गुरना के पास ऑल वेदर सड़क कार्य के चलते एनएच ने ट्रैफिक रोक दिया। मार्ग में कई वाहन फंस गए, जिससे जाम लग गया। गोपाल सिंह के परिजनों ने मौके पर मौजूद एनएच कर्मियों से लगाई, लेकिन कर्मियों ने जेबीसी नहीं होने का बहाना बना दिया, जबकि जेसीबी मौके पर ही खड़ी थी। गनीतम रही कि उनकी जान बच गई। इससे पहले भी ऐसे ही मामले सामने आ चुके हैं। बताया गया है कि उन्हें हार्ट अटैक आया था।

The post उत्तराखंड: हार्ट अटैक के दर्द से कराहता रहा मरीज, फिर भी नहीं खोली सड़क, ऐसे बची जान first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top