चमोली : बीती दिनों भारत और चीन सैनिकों के बीच तनाव की खबर आई। सीमा पर तनाव बढ़ा जिसके बाद दोनों देशों के सेना अधिकारियों ने बातचीत कर सुलाह की। लेकिन देश की सुरक्षा को देखते हुए चीन सीमा पर सुरक्षा बढ़ाई गई। उत्तराखंड में भी बॉर्डर पर जवान तैनात किए गए। उत्तराखंड का अंतिम गांव माणा चीन सीमा से सटा है जो की चमोली जिले में है। वहीं आज थलसेना अध्यक्ष जनरल मनोज मुकुंद नरवणे सेना के हेलीकाप्‍टर से चमोली जिले के जोशीमठ पहुंचे। जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने माणा स्थित सेना के कैंप का निरीक्षण किया।

वहीं इसके बाद सेना प्रमुख औली स्थित सेना के कैंप में कार्यक्रम में शामिल हुए। आपको बता दें कि उत्तराखंड राज्‍य में चीन से लगती हुई 345 किलोमीटर लंबी सीमा है। इसमें से करीब 90 किलोमीटर चमोली जनपद में है। चीन सीमा का यह भाग सर्वाधिक संवेदनशील है। चमोली जिले की मलारी घाटी में स्थित बाड़ाहोती में चीन ने 2014 से 2018 तक 10 बार घुसपैठ की है। माणा सीमा पर अधिक संख्या में आईटीबीपी के जवानों की तैनाती बढ़ा दी गई है। साथ ही सेना की अतिरिक्त टुकड़ी तैनात की गई है।

The post सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे पहुंचे चमोली, माणा के सेना कैंप का किया निरीक्षण first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top