देहरादून : राज्य में अवैध नशे के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान के तहत एडीटीएफ और एसटीएफ़ द्वारा सयुक्त कार्रवाई करते हुए कल देर रात थाना क्लेमनटाउन क्षेत्र के अंतर्गत लाखों रुपए की अफीम के साथ गिरफ्तार किया। एसटीएफ द्वारा तीनों आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस के तहत थाना क्लेमनटाउन में मुकदमा दर्ज कराया गया। एसटीएफ तीनों आरोपियों के पूर्व आपराधिक इतिहास और इनके नेटवर्क से जुड़े अन्य व्यक्तियों की बारे में जानकारी कर रही है।वहीं एसटीएफ डीआईजी ने एसटीएफ और एडीटीएफ टीम के उत्साह वर्धन के लिए 5 हज़ार का नकद पुरस्कार की घोषणा की। साथ ही पिछले पांच सालों में उत्तराखंड पुलिस द्वारा एक साथ पकड़ी गई अफीम की यह सबसे बड़ी बरामदगी है।

पिछले कई दिनों से एसटीएफ और एसटीएफ़ को सूचना मिल रही थी कि अफीम की बड़ी खेप देहरादून आने वाली है।जिस पर एसटीएफ और एसटीएफ़ द्वारा अपने मुखबिर को सक्रिय करते हुए कल देर रात कलेमनटाउन थाना क्षेत्र के अंतर्गत 35 लाख की कीमत अवैध 6 किलो 835 ग्राम अफीम के साथ नेपाल निवासी मारीच तमांग, महेश कुला और नरेंद्र जगमल को गिरफ्तार किया।

एसटीएफ़ सीओ अंकुश मिश्रा ने बताया कि तीनों आरोपी अफीम नेपाल से उत्तर प्रदेश होते हुए देहरादून में ऊंचे दामों पर बेचने का काम किया करते थे। बरामद माल की बाजारी कीमत करीब 35 लाख रुपए है। आरोपियों के पूर्व आपराधिक इतिहास और इनके नेटवर्क से जुड़े अन्य व्यक्तियों की बारे में जानकारी कर रही है।

The post उत्तराखंड के लिए UP बना गले की फांस, पकड़ी गई 35 लाख की अफीम, तीन गिरफ्तार first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top