उत्तरकाशी :पहाड़ी जिले उत्तरकाशी का एक मामला बीते कई दिनों से चर्चा का विषय बना हुआ है और सोशल मीडिया पर इसकी खूब चर्चाएं हो रही है। जी हां मामला मोरी प्रखंड के सिदरी गांव का है जहां से एक गजब का मामला सामने आया है । इस खबर को सुन औऱ जानकर हर कोई हैरान है। खुद शासन भी कि आखिर इतनी बड़ी चूक सिस्टम से कैसे हुआ। आपको बता दें कि सिदरी गांव की एक सुहागन महिला 18 साल से विधवा पेंशन ले रही है।पूर्व प्रधान ने ये आरोप लगाया और इसकी शिकायत की जिस पर कार्रवाई करते हुए समाज कल्याण विभाग ने महिला को वसूली का नोटिस जारी किया है।

पूर्व प्रधान ने लगाया आऱोप

दरअसल सिदरी गांव के पूर्व प्रधान केशर सिंह पंवार साल 2018 में सबूतों के साथ समाज कल्याण विभाग पहुंचे और महिला की शिकायत की। पूर्व प्रधान ने आऱोप लगाते हुए कहा कि सिदरी गांव निवासी प्रतिमा देवी (40) पत्नी जयवीर सिंह पर पति के जिंदा होते हुए भी विधवा पेंशन ले रही है। मामले की जांच कराने पर आरोप की पुष्टि होने पर अब समाज कल्याण विभाग ने महिला से वसूली के आदेश दिए हैं।

अब होगी ब्याज समेत वसूली

वहीं आपको बता दें कि जिला प्रोबेशन अधिकारी कुलदीप रावत ने सोमवार को महिला को नोटिस जारी कर गलत प्रमाणपत्रों के आधार पर ली गई विधवा पेंशन की 97400 रुपये धनराशि 3896 रुपये ब्याज समेत दो हफ्ते के भीतर जमा कराने को कहा है। उक्त धनराशि निर्धारित समय में नहीं लौटाने पर उन्होंने दंडात्मक कार्रवाई की चेतावनी दी है।

The post उत्तरकाशी : सुहागन महिला 18 साल से ले रही थी विधवा पेंशन, अब होगी ब्याज समेत वसूली first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top