दिल्ली पुलिस की ऑनलाइन भर्ती परीक्षा में देहरादून में एक प्रवेश पत्र पर दो अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचे। ये देख वहां मौजूद कर्मचारी औऱ पुलिस हैरान रह गई कि आखिर इसको कैेसे अंजाम दिया। जब पुलिस मौके पर पहुंची और जांच की तो एक अभ्यर्थी ‘मुन्नाभाई’ निकला, जबकि दूसरा उसे हायर करने वाला आरोपित था। मामला प्रेमनगर थाना क्षेत्र का है जहां पुलिस ने मौके से दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।

एक ही प्रवेश पत्र पर दो अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचे

प्रेमनगर थानाध्यक्ष धर्मेंद्र रौतेला से मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार सुबह 9 बजे से दिल्ली पुलिस की भर्ती परीक्षा थी। कर्मचारी चयन आयोग ने इसके लिए दून के प्रेमनगर में नंदा की चौकी स्थित स्किल शेयर मैनेजमेंट सॉल्यूशन को भी केंद्र बनाया था। जहां एक ही प्रवेश पत्र पर दो अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचे। पुलिस ने दोनों को हिरासत में लिया औऱ पूछताछ की।

विशाल ने खुद ही कर दिया पर्दाफाश

पूछताछ में आरोपियों ने खुलासा किया कि प्रवेश पत्र विशाल तोमर का है लेकिन परीक्षा देने मो. साकिब गया जिसके लिए विशाल ने साकिब को कुछ रुपये दिए थे। परीक्षा केंद्र पर तैनात स्टाफ भी प्रवेश पत्र देखकर फर्जीवाडा़ पक़ड़ नहीं पाए लेकिन विशाल ने ही इसका पर्दाफाश कर दिया।परीक्षा शुरू होने के करीब 45 मिनट बाद पुलिस को सूचना मिली कि केंद्र पर एक प्रवेश पत्र पर दो युवक परीक्षा देने पहुंचे हैं। युवकों की पहचान बागपत यूपी निवासी विशाल तोमर और सहारनपुर निवासी मो. साकिब के रूप में हुई।

मिली जानकारी के अनुसार परीक्षा सुबह 9 बजे शुरु हुई। विशाल सुबह 6.30 बजे ही परीक्षा केंद्र पर पहुंच गया था। इसी दौरान उसकी मुलाकात मो. साकिब से हुई। साकिब ने विशाल को बताया कि उसने भी दिल्ली पुलिस में भर्ती के लिए आवेदन किया है, लेकिन उसकी परीक्षा कुछ दिन बाद है। साथ ही साकिब ने परीक्षा के लिए अच्छी तैयारी करने का दावा करते हुए विशाल से कहा कि अगर वह चाहे तो उसकी परीक्षा दे सकता है।ये सुन विशाल राजी हो गया। इसके बाद साकिब ने विशाल से उसका ड्राइविंग लाइसेंस और प्रवेश पत्र की फोटोकॉपी ली और परीक्षा केंद्र के भीतर चला गया।

ड्राइविंग लाइसेंस और प्रवेश पत्र में फोटो पुराने होने के कारण परीक्षा केंद्र में तैनात कर्मचारी इसे नहीं पकड़ पाए लेकिन परीक्षा शुरू होने के 35 मिनट बाद विशाल भी परीक्षा केंद्र पर पहुंच गया क्योंकि उसे साबिक की बातों पर यकीन नहीं हुआ। उसे लगा कि कैसे कोई दूसरा उसकी परीक्षा दे सकता है। विशाल ने जब परीक्षा केंद्र के हेड को प्रवेश पत्र दिखाया तो वह हैरान रग हुए और इसकी सूचना पुलिस को दी गई।

थानाध्यक्ष प्रेमनगर ने जानकारी देते हुए बताया कि परीक्षा केंद्र में सीसीटीवी लगे हुए हैं। सीसीटीवी फुटेज मांगी गई है जिसकी जांच की जाएगी और दोषी पाए जाने पर आरोपी पर कार्रवाई की जाएगी।

The post देहरादून : एक प्रवेश पत्र पर पुलिस भर्ती की परीक्षा देने पहुंचे दो युवक, फिर खुद ही कर दिया पर्दाफाश first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top